breaking news New

नक्सलियो द्वारा भारत बंद के आह्वान के बीच लोन वर्राटू से प्रभावित होकर इनामी सहित चार माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

नक्सलियो द्वारा भारत बंद के आह्वान के बीच लोन वर्राटू से प्रभावित होकर इनामी सहित चार माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा .जिले में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत माओवादियों के दरभा डिवीजन के मलंगिर एरिया कमेटी अंतर्गत नक्सल संगठन में कार्यरत 4 माओवादियों ने माओवाद की खोखली विचारधारा से तंग आकर लोन वर्राटू अभियान तथा छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज के मुख्यधारा से जुड़ कर विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त करते हुऐ डॉक्टर अभिषेक पल्लव के समक्ष थाना किरंदुल में आत्मसमर्पण किया है।

गौरतलब है कि विगत 10 महीनों से जिला दंतेवाड़ा के विभिन्न ग्रामों के नक्सली संगठन में सक्रिय सदस्यों की घर वापसी हेतु थाना एवम कैम्पो, ग्राम पंचायतों में नाम चस्पा कर संबंधित क्षेत्र के सक्रिय माओवादियों के को माओवाद की खोखली विचारधारा को छोड़कर समाज की मुख्यधारा में शामिल होने हेतु लोन वर्राटू अभियान चलाया जा रहा है। और डॉक्टर अभिषेक पल्लव द्वारा नक्सल संगठन में सक्रिय माओवादियों से आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने की अपील की जा रही है।

लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक 92 इनामी सहित कुल 339 माओवादी आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ चुके हैं।आत्मसमर्पित माओवादियों में एक लाख का इनामी नक्सली भीमा मड़कम पिता हिड़मा उम्र 27 वर्ष नक्सल संगठन में सी एन एम कमांडर डी ए के एम कमांडर, व आयतु कुंजाम पिता स्वर्गीय देवा उम्र 34 वर्ष जनमिलिशिया सदस्य, व भीमा उर्फ रमेश पिता हिड़मा उम्र 33 वर्ष जनमिलिशिया सदस्य, व देवा भास्कर पिता सोमडु उम्र 31 वर्ष, जनमिलिशिया सदस्य शामिल है। ये सभी माओवादी पुलिस विरोधी नक्सल गतिविधियों में शामिल रहे हैं जिसमें समतलीकरण कार्य में लगे वाहनों की आगजनी, विधानसभा चुनाव में मतदान करा कर वापस लौट रहे सुरक्षाबलों पर हमला, एवं एंटी लैंड माइंस को आईडी ब्लास्ट में अंधाधुंध फायरिंग करने की घटना में शामिल रहे हैं।