breaking news New

गाड़ाकुसमी पंचायत के ग्रामीणों ने अवैध शराब के खिलाफ गिधपुरी थाना पुलिस और एस पी के पास की शिकायत

गाड़ाकुसमी पंचायत के ग्रामीणों ने अवैध शराब के खिलाफ गिधपुरी थाना पुलिस और एस पी के पास की शिकायत

गाड़ाकुसमी पंचायत के ग्रामीणों ने अवैध शराब के खिलाफ गिधपुरी थाना पुलिस और एस पी के पास की शिकायत
जनधारा समाचार

रायपुर/पलारी - गिधपुरी थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत गाड़ाकुसमी में अवैध शराब बिक्री करने वाले गोपाल घृतलहरे के ख़िलाफ़ पंचायत के सरपंच महेंद्र वर्मा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने बलौदाबाजार जिले के एस पी दीपक झा, आबकारी विभाग एवं गिधपुरी थाना पुलिस में शिकायत कर कार्यवाही की मांग की है ।
पंचायत के सरपंच महेंद्र वर्मा ने बताया कि गांव में लंबे समय से गोपाल घृतलहरे के द्वारा अवैध शराब बेचने का कार्य किया जा रहा है । इससे गांव में आपराधिक माहौल बन गया है इसके अलावा कई असामाजिक तत्वों का जमावड़ा बना रहता है । इतना ही नही आसपास के ग्रामीणों का शराब लेने आते है जिस कारण गांव के कई ग्रामीणों के घरों मे चोरी की घटना भी हो गयी है । उन्होंने बताया कि एम पी अवैध शराब बिक्री की शिकायत गिधपुरी थाना पुलिस में किये थे इसके बाद थाना प्रभारी मनोहर कंवर ने शिकायत को संज्ञान में लेते हुए आरोपी को पकड़ने जब गांव आये थे इस बीच आरोपी फरार हो गया था । इसके बाद थाना प्रभारी ने गांव में चौपाल लगाकर शान्ति मौहोल बनाये रखने की अपील की थी । कुछ दिनों तक गांव में अवैध शराब बेचने का कारोबार बन्द हो गया था । अब पुनः आरोपी गोपाल घृतलहरे के द्वारा शराब बेचने का कार्य किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि पंचायत में प्रस्ताव लाकर अवैध शराब बेचते पाए जाने पर कोचिये के खिलाफ 50 हजार रुपये का अर्थ दंड एवं बताने वाले लोगो को 20 हजार रुपये ईनाम देने की घोषणा की गई है । इसके बाद भी आरोपी गोपाल के द्वारा शराब का अवैध रूप से बिक्री की जा रही है ।

ग्रामीण मुंशीराम ने बताया कि मेरे द्वारा गोपाल को अवैध शराब बेचने के लिए मना करने पर मुझे मारने लगे थे जिसे कुछ लोगों के द्वारा छुड़ाया गया । अशोक चंद्रवंशी ने कहा कि मुंशीराम के साथ हुई मारपीट की शिकायत थाने की गई थी बावजूद इसके कोई कार्यवाही नही हुई।

वहीं थाना प्रभारी मनोहर कंवर ने बताया कि पूर्व में ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत पर कार्यवाही करने के लिए मै अपने पुलिस टीम के साथ गया हुआ जिसके बाद आरोपी फ़रार हो गए थे । पूर्व में मिली शिकायत के बाद गांव में चौपाल लगाये थे जिसके बाद शराब बिक्री की शिकायत नहीं आयी पुनः ग्रामीणों द्वारा अवैध शराब की शिकायत मिली थी जिस पर आरोपी को पकड़ने गांव गए हुए थे आरोपी फरार है,आरोपी को पकड़ने के लिए टीम जाएगी । ग्रामीणों का बयान लिए है जैसे ही आरोपी की सूचना मिलेगी उन पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी ।