breaking news New

खोड़गांव में BSF का सिविक एक्शन प्रोग्राम एवं मेडिकल कैम्प ग्रामीणो को मिला जरूरत का सामान एवं उपचार

खोड़गांव में BSF का सिविक एक्शन प्रोग्राम एवं मेडिकल कैम्प ग्रामीणो को मिला जरूरत का सामान एवं उपचार

नारायणपुर, 3 मार्च। 193 वीं वाहिनी सीमा सुरक्षा बल , दण्डकवन कांकेर ( छत्तीसगढ ) के तत्वाधान में दिनांक 03/03/2021 को ग्राम खोड़गांव में सिविक ऐक्शन कार्यक्रम एवं मेडिकल कैम्प का आयोजन किया गया । आयोजन में मुख्य अतिथि राजीव कुमार , कमाण्डेंट . 193 वीं वाहिनी सीमा सुरक्षा बल के नेतृत्व में सीमा सुरक्षा बल के द्वारा ग्रामीणजन को दैनिक उपयोग की वस्तुएं उपलब्ध काराई गई एवं जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क जाँच एवं दवाईयों दी गई ।

 आयोजन का शुभारम्भ खोड़गांव के सबसे वृद्ध महिला द्वारा फिता काटकर करवाया गया । इस शिविर में मुख्यतः ग्राम अजरेल , पलाकासा , खोड़गांव , शुपगांव , परालभाट , खड़कागांव , बिजली और केरलापाल आदि के ग्रामवासियों को लाभ मिला एवं आम जन उत्साहपूर्वक इस आयोजन में उपस्थित थे । सरपंच विशाल राम नाग के अनुसार सुरक्षा बलों द्वारा आयोजित इस तरह के आयोजनों से छत्तीसगढ़ के दूर दराज इलाकों में रहने वाली आम जनता को सीधा लाभ मिलता है । जरूरतमंद एवं गरीब ग्रामवासियों को दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुएं निःशुल्क प्राप्त हो जाती है । इसके साथ ही स्वास्थय शिविर में ग्रामीणों के स्वास्थ्य की निःशुल्क जाँच भी हो जाती है और जरूरी दवॉईयां भी मुफ्त मिल जाती है । ऐसे कार्यक्रमों द्वारा लोगों को सीमा सुरक्षा बल जैसे सुरक्षा बलों को अच्छी तरह से समझने एवं जानने का भी मौका मिलता है । इस तरह के द्वारा समय - समय पर किये जाते रहे हैं । सीमा सुरक्षा बल द्वारा इन कार्यक्रमों के आयोजन का मूल उद्देश्य सामान्य जीवन शैली से विमुख लोगो को बेहतर जीवन शैली उपलब्ध कराना है तथा ऐसे आवासीय इलाके जो छत्तीसगढ़ के दुर्गम क्षेत्र माने जाते हैं , वहां रहने वाले ग्रामीणों को मुख्य धारा में सम्मिलित करना है । 


इस आयोजन में ग्रामवासियों को साड़ी , शॉल , मच्छरदानी , धोती , कम्बल , दरी , तौलिया , सोलर लैम्प , पानी टंकियां आदि के साथ - साथ गांव में होने वाले सामूहिक कार्यक्रमों के लिए सामुदायिक केन्द्रों में उपयोग की वस्तुएँ एवं बर्तन भी उपलब्ध कराये गये । इसके साथ - साथ खोड़गांव , शुपगांव , परालभाट , खड़कागांव , अंजरेल , पलाकासा , बिजली और केरलापाल गांव आदि स्कूल के बच्चों को खेल सामग्री और स्टेशनरी उपलब्ध कराई गई । इस आयोजन के दौरान ग्रामिणों के बीच रस्सा - कस्सी एवं वालीबॉल मैच भी आयोजित किया गया । जिससे बच्चों के खेल - कूद एवं शैक्षणिक स्तर के साथ - साथ उनके जीवन स्तर का भी उत्थान हो सीमा सुरक्षा सके । ग्रामीणों की उपस्थिति एवं उत्साह इस बात की घोतक है कि सीमा सुरक्षा बल किस तरह आम ग्रामवासियों के साथ सौहार्दपूर्ण व सहयोगात्मक परिवेश बनाने में सफल रहा है । 

इस आयोजन में कार्यक्रम के मुख्य आतिथि श्री राजीव कुमार , कमाण्डेंट 193 वीं वाहिनी , अभिनव सिहं द्वितीय कमान अधिकारी , डा 0 पावेल हाजरा वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी , प्राभात द्विवेदी उपकमाण्डेंट , सोनाल बोहरा , सहायक समादेष्टा , आर 0 के 0 मीना सहायक समादेष्टा , एवं अन्य कार्मिकों और ग्रामवासियों और शिक्षकों की उपस्थिती रही । आयोजन के उद्बोधन में मुख्य अतिथि ने ग्रामीण बच्चों से समाज की कुरितियों से वचकर मन लगाकर अध्ययन करने एवं अपने सपने साकार करने के लिए प्रोत्साहित किया । साथ ही सीमा सुरक्षा बल द्वारा ग्रामीणों के लिए हर संभावित सहयोग के लिए कटिबद्धता जताई । कमाण्डेंट श्री राजीव कुमार ने कहा कि इस आयोजन का उद्देश्य सामान्य जीवनशैली से विमुख लोगों को बेहतर सुविधाएँ उपलब्ध कराना है । खोरगांव के स्वास्थ्य शिविर में ग्राम शुपगांव , परालभाट , खड़कागांव , अंजरेल , पलाकासा , बिजली और केरलापाल गांव के ग्रामीण शामिल हुए । शिविर में डॉ 0 पावेल हाजरा वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी द्वारा लोगों की चिकित्सकीय जाँच एवं उपचार किया गया साथ हीं मुफ्त दवाईयों का भी वितरण किया गया । 

कार्यक्रम के अंत राजीव कुमार , कमाण्डेंट ने ग्राम खोड़गांव , शुपगांव , परालभाट , खड़कागांव , अंजरेल , बिजली और केरलापाल गावों से सम्बन्धित समस्याओं और उनको दूर करने के उपायों पर भी चर्चा की । अंत में सभी जनप्रतिनिधियों का 193 वाहिनी द्वारा आयोजित इस सिविक एक्शन कार्यक्रम को सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने में उनके सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा की ।