breaking news New

52 परी से दिल लगाया तो होगी बड़ी कार्यवाही, जुआ के फड वाले संदिग्ध स्थानों में चौकसी

52 परी से दिल लगाया तो होगी बड़ी कार्यवाही, जुआ के फड वाले संदिग्ध स्थानों में चौकसी

हिंदू परंपरा के अनुसार दिवाली वर्ष का सबसे बड़ा त्यौहार माना जाता है पर कुछ तथाकथित बावनपरियों के शौकीनो ने इस त्यौहार को इतना बदरंग कर दिया है कि लोग इस त्यौहार को दीपावली पर्व के साथ ही जुआ का त्योहार के नाम से जानते हैं इसीलिए यह त्यौहार दीपोत्सव के बजाय युवा उत्सव के रूप में जुआरियों के मध्य लोकप्रिय बन चुका है

गौरतलब है कि भारतीय परंपरा के अनुसार दीपावली का उत्सव राम जी के अयोध्या नगर आगमन के उपलक्ष्य में मनाए जाने का सदियों पुरानी परंपरा रही है साथ में इस त्यौहार को मां लक्ष्मी के आगमन को लेकर स्वागत के रूप में त्यौहार को मनाने की समृद्ध परंपरा हमारे देश म पुरातन से चली आ रही है लेकिन इसके पीछे पीछे 52 परी के शौकीन लोगों ने इस त्यौहार को जुआ का त्यौहार के रूप में कुख्यात कर रखा है जोकि इस त्यौहार रूपी सिक्के के दूसरे पहलू को सामाजिक बुराई जुआ के दिन के रूप में सर्वत उजाला वाला त्योहार को काले अंधेरे में बदल दिया जाता है जिसे लेकर चांपा थाना स्तर में अनुविभागीय अधिकारी पदम श्री तवर एसडीओपी थाना प्रभारी राजेश चौधरी के द्वारा त्यौहार के पहले ही कमर कस ली गई है और चांपा सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में तलाब नदी के किनारे नहर किनारे सहित सुनसान जगह पर मुखबीर को लगाकर सूचना देने के लिए पहले से आगाह कर दिया गया है यदि किसी प्रकार भी आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों सहित चांपा क्षेत्र में जूआ के शौकीन 52 परियों से  खेलते पाए जाते हैं तो चांपा थाना के द्वारा समुचित कार्यवाही किए जाने की बात कही जा रही है जिसे लेकर अभी से पूरी तैयारी कर लिए जाने की बात कहते हुए चांपा थाना प्रभारी कहते हैं कि उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार अलग से टीम गठित कर ऐसे जुआ के शौकीन लोगों के फड आयोजित किए जाने की जानकारी मिलेगी तो ताबड़तोड़ कार्यवाही कर ऐसे लोगों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा यह तो सभी जानते हैं कि जुआ घर परिवार सहित मान सम्मान के लिए भारी घातक साबित होता है इसके बाद भी लोग इस महत्वपूर्ण त्यौहार को जुआ का त्यौहार मान लेते हैं और अपने परिजनों को आर्थिक परेशानियों में ढकेल ने को आमादा हो जाते हैं और इसी जुआ में हानि लाभ के चलते कई अपराधिक घटनाएं देखने को मिलती है जिसे लेकर पुलिस प्रशासन के द्वारा जुआ के फड वाले संदिग्ध स्थानों में चौकसी बढ़ाई जा रही है