breaking news New

कृमि से छुटकारा, सेहतमंद भविष्य हमारा, कृमि दिवस का शुभारंभ

 कृमि से छुटकारा, सेहतमंद भविष्य हमारा, कृमि दिवस का शुभारंभ

महापौर ने बच्चों को दवा खिलाकर कृमि दिवस का किया शुभारंभ

 कृमि से छुटकारा, सेहतमंद भविष्य हमारा : 10 दिन में 6.69 लाख बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाने का लक्ष्य

राजनांदगांव। कृमि से छुटकारा, सेहतमंद भविष्य हमारा, इस नारे के साथ राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय में जिला स्तरीय कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लखोली में बच्चों को कृमिनाशक दवा खिलाकर कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया है। कृमि मुक्ति कार्यक्रम के दौरान जिले में लगभग 6.69 लाख बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाई जाएगी। इस कार्य के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व मितानिन को भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है।

शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लखोली में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का शुभारंभ राजनांदगांव नगर निगम की महापौर हेमा देशमुख ने किया। कलेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा के निर्देश पर जिले में 13 से 23 सितंबर तक राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम मनाया जाएगा। इसके अंतर्गत 01 से 19 वर्षीय बालक-बालिकाओं को कृमि नाशक दवा एल्बेंडाजोल (400 मिली ग्राम) खिलाई जाएगी। 

इस संबंध में राजनांदगांव के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथिलेश चौधरी ने बतायाए श्राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का मूल आयोजन 13 से 20 सितंबर तक ही किया जाएगा, लेकिन शेष यानी छुटे हुए बच्चों को यह दवा 21 से 23 सितंबर के बीच मॉप-अप दिवस पर खिलाई जाएगी। उन्होंने बताया, जिले में लगभग 6.69 लाख बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाने का लक्ष्य रखा गया है। एल्बेंडाजोल टेबलेट का सेवन कराने के दौरान कोविड नियमों का पूर्णतः पालन करने के लिए कहा गया है। इस कार्य की सफलता के लिए मितानिन व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है। वह गृह भेंटकर पात्र अथवा चिन्हित बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाएंगी। सीएमएचओ ने बताया, कृमि की दवा खिलाने पर बच्चों में खून की कमी व कुपोषण दूर किया जा सकता है। मानसिक एवं बौद्धिक विकास, औसत आयु में बढ़ोत्तरी तथा स्कूल, आंगनवाड़ी में बच्चों के पढ़ने की रुचि बढ़ाने में कृमि की दवा काफी सहायक होती है। कृमि मुक्ति हेतु बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाने से समुदाय से कृमि के स्तर में कमी लाई जा सकती है। एल्बेंडाजोल टेबलेट 1 से 2 वर्ष आयु के बच्चों को आधी गोली चूरा कर तथा 2-3 वर्ष के बच्चों को 1 गोली चूरा कर एवं 3 से 19 वर्ष के बच्चों को यह दवा 1 गोली चबाकर साफ पानी के साथ खिलाया जाएगा। उन्होंने अपील की हैए श्कि 13 से 23 सितंबर के बीच पालक-अभिभावक  यह दवा अपने बच्चों को अवश्य खिलाएं।

लखोली में कृमि मुक्ति कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के चेयरमैन गणेश शंकर पवार, सीएमएचओ डॉ. मिथिलेश चौधरी, नोडल अधिकारी डॉ. बीएल तुलावी, चिकित्सा अधिकारी लखोली डॉ. रौशन कुमार, जिला कार्यक्रम प्रबंधक गिरीश कुर्रे, विकास राठौर, प्रणय शुक्ला व अखिलेश सिंह सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य कर्मचारी प्रमुख रूप से उपस्थित हुए।