breaking news New

ब्रेकिंग : सरकार का बड़ा फैसला, प्राइवेट सेक्टर में काम करने वालों को भी मिलेगा केंद्रीय कर्मचारियों की तरह यह फायदा

ब्रेकिंग : सरकार का बड़ा फैसला, प्राइवेट सेक्टर में काम करने वालों को भी मिलेगा केंद्रीय कर्मचारियों की तरह यह फायदा

यदि आप किसी निजी कंपनी यानी प्राइवेट सेक्टर में काम करते हैं तो मोदी सरकार के इस निर्णय से आपके चेहरे पर मुस्कान आ जाएगी. जी हां…दिवाली से पहले आपको मोदी सरकार ने एक तोहफा देने का काम किया है. लाखों केंद्रीय कर्मचारियों को पिछले दिनों केंद्र सरकार ने कुछ सुविधा दी है जो एलटीसी को लेकर है. इसके बाद सरकार ने निजी कंपनियों में काम करने वाले कर्मियों के लिए भी कुछ सुविधा उपलब्ध कराई है जो एलटीसी को लेकर ही है.

दरअसल, वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि एलटीसी कैश वाउचर स्कीम का फायदा केंद्र सरकार के कर्मचारियों के साथ-साथ निजी कंपनियों और तमाम राज्य सरकारों के कर्मचारियों को भी दिया जाएगा. केंद्रीय कर्मचारियों की तरह इन कर्मचारियों को भी मान्य एलटीसी फेयर के इनकम टैक्स में छूट देने का फैसला मोदी सरकार की ओर से किया गया है. हालांकि अधिकतम 36 हजार रुपये इनकम टैक्स में छूट देने का काम किया जाएगा.

जानकारों की मानें तो, यदि आप कोई कॉन्ट्रैक्टट साइन करने जा रहे हैं या फिर कोई ऑफर का लाभ लेने जा रहे हैं तो आप एक बार टर्म एंड कंडीशन पर नजर जरूर दौडा लें. जो लाभ सरकार की ओर से जनता को दिया गया है ये टैक्स बचाने के लिए एक अच्छा अवसर है, लेकिन इससे पहले आपको कुछ बातें ध्यान में रखने की जरूरत है…

-कर्मचारी 4 साल में दो बार LTC की सुविधा लेने के हकदार हैं

- यही नहीं सरकारी कर्मचारियों को LTC पर टैक्स चुकाने की जरूरत नहीं होती.

- प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों को भी 4 साल में 2 बार LTC की सुविधा प्राप्त होगी.

- LTC की सुविधा नहीं लेने पर कंपनी टैक्स कटौती के बाद बकाया देने का काम करती है.

- नई स्कीम के तहत लीव इनकैशमेंट और LTC से तीन गुना ज्यादा खर्च करने पर ही टैक्स में आपको छूट दिया जाएगा.

- इसके अलावा LTC से मिले पैसों से 3 गुनी कीमत का सामान खरीदना अनिवार्य होगा जिस पर GST दर 12 फीसदी से अधिक हो.

- जीएसटी का बिल भी कर्मचारियों को पेश करने की आवश्यकता होगी.

- खरीदारी 31 मार्च 2021 से पहले आपको करनी होगी.