breaking news New

जनकल्याणकारी योजना कार्य के एवज में 19 प्रतिशत राशि की मांग करती हुई महिला सचिव

जनकल्याणकारी योजना कार्य के एवज में 19 प्रतिशत राशि की मांग करती हुई महिला सचिव

दंतेवाड़ा।  जिले में 04 जनपद पंचायतों है, इनके माध्यम से ग्राम स्वराज एवं गांव की उन्नति के लिये सरकार द्वारा 36 योजनाओं पर काम किया जा रहा है। जिसमे केन्द्र सरकार एवं राज्य की सरकार मिलकर योजनाओं का क्रियान्वयन हेतु बजट का आबंटन किया जाता है। राज्य सरकार बजट जिला पंचायत के माध्यम से जनपद पंचायतों को आबंटित करती है। उसके बाद जनपद पंचायत ग्राम पंचायत को गांव के विकास, व सरकार के जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से निर्माण कार्यों की स्वीकृति देती है।

अक्सर यह देखने और सुनने को आता है कि ग्राम प्रधान और सचिव मिलकर योजनाओं की आड़ में अपना स्वार्थ सिद्धि का काम करते है। ऐसा ही एक मामला जनपद पंचायत कुआकोंडा के श्यामगिरी पंचायत का आया है। महिला सचिव द्वारा योजना में किये गये कार्य के एवज में राशि भुगतान करते वक़्त ठेकेदार से 19 परसेंट कमीशन की मांग करते हुए वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुवा है।

गौरतलब करने वाली बात है, महिला सचिव ने जनकल्याणकारी योजना के एवज में 19 प्रतिशत कमीशन की मांग स्थानीय ठेकेदार से की है। जिसमें जनपद सीओ, सबइंजीनियर, लेखापाल,बाबू,जनपद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और सरपंच का बराबर का हिस्सा रहता है।