breaking news New

देश में पहली बार ऑनलाइन शतरंज प्रतियोगिता, छग के 16 जिलों से 202 प्रतिभागी लेंगे हिस्सा, हुआ वर्चुअल उद्घाटन

 देश में पहली बार ऑनलाइन शतरंज प्रतियोगिता, छग के 16 जिलों से 202 प्रतिभागी लेंगे हिस्सा, हुआ वर्चुअल उद्घाटन

रायपुर   कोरोना संकटकाल के बावजूद भी खेलों का जुनुन बरकरार है। यह देश और प्रदेश के प्रतिभागियों के साथ ही खेलों में इंटरेस्ट रखने वालों की जिंदगी को आसान बनाने के लिए बेहद कारगर भी है।

छत्तीसगढ़ देश का ऐसा पहला राज्य है, जहां पर ऑनलाइन शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। आज इस प्रतियोगिता का उद्घाटन वर्चुअल माध्यम से अखिल भारतीय शतरंज महासंघ के सचिव भारत सिंह चौहान, छग राज्य ओलम्पिक संघ के महासचिव एवं शतरंज एसोसिएशन के संरक्षक गुरुचरण सिंह होरा और छग शतरंज एडहॉक कमेटी के अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह सिंघानिया के द्वारा किया गया।

आज 4 जून से शुरु हुई यह प्रतियोगिता 13 जून तक जारी रहेगी। जिसमें प्रदेश के 16 जिलों से 202 प्रतिभागियों ने पंजीयन कराया है। रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, सरगुजा, महासमुंद, रायगढ़, कोरबा, बस्तर, बालोद, सूरजपुर, कोरिया, मुंगेली, धमतरी, कवर्धा, बेमेतरा से शामिल होने वाले प्रतिभागियों को पांच आयु वर्ग में विभक्त किया गया है। जिसमें अंडर 10, 12, 14, 16 व 18 के प्रतिभागी हिस्सा लेंगे।

शतरंज उच्च शिखर को प्राप्त करेगा
प्रदेश में खेले जा रहे इस ऑनलाइन शतरंज प्रतियोगिता को लेकर छग शतरंज एडहॉक कमेटी के अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह सिंघानिया ने कहा कि अखिल भारतीय शतरंज महासंघ के सचिव भारत सिंह चौहान और छग ओलम्पिक संघ के महासचिव गुरुचरण सिंह होरा के सानिध्य में शतरंज उच्च शिखर को प्राप्त करेगा।

मुख्यमंत्री ट्राफी के तर्ज पर पुन: बड़ा आयोजन
इस मौके पर छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के महासचिव गुरुचरण सिंह होरा ने कार्यक्रम का वर्चुअल उदघाटन करते हुए कहा कि मैं शतरंज का खिलाड़ी रहा हूँ। मेरा बचपन से शतरंज से नाता रहा है। वर्तमान में शतरंज एडहॉक कमेटी ऊर्जावान लोगो के हाथ मे है। आज के आयोजन को लेकर मैंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से चर्चा की। उन्होंने भी इस आयोजन को लेकर प्रसन्नता जाहिर की है। उन्होंने शतरंज खिलाडिय़ों को आश्वस्त किया कि प्रदेश में मुख्यमंत्री ट्रॉफी के तर्ज पर पुन: बड़ा आयोजन करेंगे।

आयोजन कर चुनौतीपूर्ण कार्य किया
ऑल इंडिया चेस फेडरेशन के सचिव भारत सिंह चैहान ने अपने सम्बोधन में कहा कि एडहॉक कमेटी द्वारा अल्प समय में इतना अच्छा आयोजन कर चुनौतीपूर्ण कार्य किया है। इसके लिए पूरी टीम को बधाई। उन्होंने छत्तीसगढ़ में शतरंज के भीष्मपितामह विनोद राठी के कार्यो की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि अब छत्तीसगढ़ में शतरंज सही ट्रैक पर आ रहा है । छत्तीसगढिय़ा सबले बढिय़ा उक्ति पर जोर देते हुए कहा कि अब शतरंज की दुनिया मे छत्तीसगढ़ को आयोजन को लेकर जाना जाएगा।