breaking news New

BREAKING : भूपेश का एयरपोर्ट पर विजेता जैसा स्वागत,देखिये VEDIO

BREAKING :  भूपेश का एयरपोर्ट पर विजेता जैसा स्वागत,देखिये VEDIO

रायपुर। नेतृत्व परिवर्तन की रस्साकशी के बीच कांग्रेस आलाकमान से मिलकर लगभग विजयी मुद्रा में आज दिल्ली से लौटे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का समर्थकों ने विमानतल पर जोरदार स्वागत किया।वहां उऩके समर्थकों की उमड़ी भीड़ जोश में थी और वहां का परिदृश्य शक्ति प्रदर्शन जैसा संदेश दे रहा था।

मुख्यमंत्री बघेल दिल्ली से विशेष विमान से आलाकमान के सामने उऩके प्रति समर्थन और नेतृत्व में किसी परिवर्तन का विरोध करने गए मंत्रियों विधायकों एवं निगम मंडलों के पदाधिकारियों के साथ जब रायपुर विमानतल पर पहुंचे तो वहां उनके समर्थकों की भारी भीड़ उऩका इंतजार कर रही थी।जोरदार नारेबाजी के बीच फूल मालाओं एवं पुष्पगुच्छों से स्वागत की होड़ सी लग गई।सुरक्षाकर्मियों को व्यवस्था बनाए रखने में काफी मशक्कत करनी पड़ी,जबकि उसके द्वारा अलग से बेरीकेटिंग की गई थी।

छत्तीसगढ़ का सीएम कैसा हो,भूपेश बघेल जैसा हो..दिल्ली से आई आवाज,भूपेश बघेल भूपेश बघेल..कामगार का बेटा भूपेश बघेल भूपेश बघेल..जैसे नारों के बीच श्री बघेल ने पत्रकारों से बातचीत में फिर दोहराया कि राहुल गांधी जी ने मंत्रियों विधायकों की भावनाओं का सम्मान करते हुए अगले सप्ताह छत्तीसगढ़ आने का निमंत्रण स्वीकार किया हैं। राहुल जी बस्तर जायेंगे और दो दिन रहेंगे तथा वहां आदिवासियो,गरीबों एवं समाज के अन्य वर्गों से मुलाकात करेंगे।

उन्होने कहा कि राहुल जी इस दौरे में यहां किसानों,आदिवासियों,व्यापारियों समेत विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए चल रही योजनाओं कार्यक्रमों को देखेंगे औऱ उसे लेकर पूरे देश में जायेंगे।उन्होने कहा कि कल राहुल जी से राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के साथ ही राज्य में चल रही योजनाओं कार्यक्रमों के बारे में बहुत ही विस्तार से चर्चा हुई।उन्होने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि छत्तीसगढ़ के लोगो का प्रेम कांग्रेस के प्रति अटूट रहा है,और वह लगातार बढ़ता जा रहा है।

श्री बघेल का काफिला वाहनों की भारी भीड़ के साथ जब विमानतल से रवाना हुआ तो रास्ते में कई जगह उनका रोककर उनके समर्थकों ने जोरदार स्वागत किया।इस सारी कवायद से लगभग यह संदेश देने की कोशिश दिखाई पड़ रही थी कि नेतृत्व परिवर्तन का मामला समाप्त गया है।इस पूरी कवायद पर फिलहाल नेतृत्व परिवर्तन के लिए प्रयासरत स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव या उऩके समर्थकों की ओर से खुलकर कोई प्रतिक्रिया नही व्यक्त की गई है।

गत बुधवार को भी श्री बघेल दिल्ली से राहुल गांधी से मिलकर जब लौटे थे,उस समय भी उऩके समर्थकों की भारी भीड़ विमानतल पर पहुंची थी।उस समय उऩ्होने समर्थकों की भारी भीड़ एवं नारेबाजी के बीच कहा था कि राज्य में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने के लिए मुख्यमंत्री के पद के लिए ढ़ाई-ढ़ाई साल का राग अलाप करने वाले अपने मिशऩ में सफल नही होंगे।उस समय वह मीडिया से बात करते काफी आक्रामक थे लेकिन आज उन्होने दिल्ली में कल दिए बयान को ही दोहराया और आगे बढ़ गए।