breaking news New

मुआवजा के एवज में रिश्वत मांगने वाले पर प्राथमिकी दर्ज, CM का निर्देश

मुआवजा के एवज में रिश्वत मांगने वाले पर प्राथमिकी दर्ज, CM का निर्देश

 पटना।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को मुआवजे की राशि का भुगतान करने के एवज में रिश्वत मांगने वाले कर्मी पर प्राथमिकी दर्ज कराने का आज निर्देश दिया।

श्री कुमार से सोमवार को ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री’ कार्यक्रम में पश्चिम चंपारण के योगापट्टी से आए विनोद कुमार ने गुहार लगाते हुए कहा कि उनके पुत्र एवं पुत्री की पानी में डूबने से मौत हो गई थी। मुआवजा के लिए राशि भी आयी लेकिन कार्यालय के कर्मचारी ने उन्हें राशि का भुगतान करने के लिए अवैध राशि की मांग की है। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसने भी पैसे की मांग की है, उस पर केस दर्ज होगा। उन्होंने तुरंत आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव को पूरी जानकारी लेकर जिसने भी पैसे की मांग की है, उस पर विधि सम्मत कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री से मधुबनी के झंझारपुर के नरुआर गांव से आये सतीश कुमार मंडल ने कहा कि वर्ष 2019 में आई बाढ़ में 52 परिवार विस्थापित हो गये थे। इन सभी की जमीन एवं घर कमला नदी में समा गया था। आपने ही सभी 52 परिवारों को घर के लिए जमीन के कागजात दिये थे। वर्ष 2019 से आज तक सिर्फ कागज ही मिला लेकिन जमीन अब तक नहीं मिल पायी है। आज भी सभी 52 परिवार पन्नी (पॉलिथीन) टांगकर किसी तरह गुजर-बसर कर रहे हैं।

इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वह उनके गांव गये थे, उन्हें याद है। इसके बाद उन्होंने आपदा प्रबंधन विभाग को कहा कि जिलाधिकारी से बात कीजिए कि अभी तक विस्थापित परिवारों को जमीन क्यों नहीं मिली है। वह उस गांव में गये थे और जमीन देने की बात उन्होंने ही कही थी लेकिन ये बता रहे हैं कि अभी तक जमीन उपलब्ध नहीं करायी गयी है। इसको देखकर शिकायत दूर कीजिए।