निजामुद्दीन मरकज से छत्तीसगढ़ का भिलाई भी अछूता नहीं रहा, आयशा मस्जिद से सात और जमाती मिले

निजामुद्दीन मरकज से छत्तीसगढ़ का भिलाई भी अछूता नहीं रहा,  आयशा मस्जिद से सात और जमाती मिले

भिलाई, 2 अप्रैल। दिल्ली निजामुद्दीन तबलीगी जमात मरकज में सैकड़ों लोगों को कोरोना पॉजिटिव और संदिग्ध मरीज मिलने के बाद देशभर में हड़कंप मच गया है। निजामुद्दीन मरकज से छत्तीसगढ़ का भिलाई भी अछूता नहीं रह गया है।बताया जाता है कि भिलाई के कोहका के आयशा मस्जिद से सात और जमाती मिले हैं। ये सभी महाराष्ट्र से आए हैं। जामुल पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है। जामुल थाना  प्रभारी लक्ष्मण कुमेटी ने बताया कि सातों जमातियों के मस्जिद के पास एक मुस्लिम परिवार के रह रहे थे उन्होंने बताया कि वे अपने आने की सूचना थाने में दे दिये थे  इसके अलावा उनका यह भी कहना है कि  वह पिछले 3 महीने से यहां रह रहे हैं  और केवल  राजनांदगांव  बेमेतरा दुर्ग  जिले से बाहर नहीं गए । टी आई लक्ष्मण कमेटी ने बताया कि  सभी लोगों को  होम आइसोलेटेड  किया गया है ।जमातियों में अब्दुल हफीज, अब्दुल अजीज, जिब्राइल गुलमोह, नसीम खान, शेख सूद, सैय्यन रियाजुददी, जमील शा शामिल हैं।

अभी कुछ दिनों पहले ही सुपेला के नूर मस्जिद में दिल्ली से आकर 8 लोगों को रहने की सूचना से प्रशासन की नींद उड़ी थी।  यहां आने वाले आठ लोग भले ही पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं पर वे निजामुद्दीन गए थे और वहां से 7 मार्च को भिलाई आए। तब कोरोना को लेकर लॉकडाउन की घोषणा नहीं हुई थी, लेकिन एहतियातन उनका सैंपल भी जांच के लिए भेजा गया है। फिलहाल सभी को एस आर अस्पताल चिखली दुर्ग के आइसोलेशन में रखा गया है। अधिकारियों को उनकी जांच रिपोर्ट का इंतजार है।