breaking news New

चौथे दिन भी आंदोलन जारी रहा, हम अपने अधिकार लेने दृढ़ संकल्पित है-तुषार ठाकुर

चौथे दिन भी आंदोलन जारी रहा, हम अपने अधिकार लेने  दृढ़ संकल्पित है-तुषार ठाकुर

चौथे दिन भी आंदोलन जारी रहा, आम आदमी पार्टी सहित भाजपा एवं कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों का समर्थन

भानुप्रतापपुर। मांग को लेकर भानुप्रतापपुर  परिवहन संघ का आज चौथे दिन भी धरना प्रदर्शन जारी रहा। आज शुक्रवार को

भाजपा, कांग्रेस,एवं आम आदमी पार्टी परमानन्द तेता, ब्रिजवत्ती मरकाम अध्यक्ष जनपद पंचायत, सुनाराम तेता उपाध्यक्ष जनपद पंचायत, कोमल हुपेंडी प्रदेश अध्यक्ष, हरेश चक्रधारी सहित जनप्रतिनिधियों ने धरना स्थल पहुचकर अपना समर्थन एवं विचार प्रस्तुत किये।

 तुषार ठाकुर ने अपने उदबोधन में कहा कि हम यूनियन के लोग पिछले 4 दिनों से सड़क की लड़ाई लड़ते हुए अपने अधिकार को लेने के लिए हम दृढ़ संकल्पित है,  भानुप्रतापपुर यूनियन जगदलपुर के बाद क्षेत्र की सबसे बड़ी यूनियन जहां 850 मेंबर है और उनके पीछे हमारा परिवार, बावजूद इसके राज्य शासन तो बहुत दूर की बात, स्थानीय जिला प्रशासन के कान में जूं भी नहीं रेंगा प्रशासन हमसे चाहती क्या है कि हम उग्र होये और अपना आपा खोए ताकि किसी षड्यंत्र में फंसा कर हमें जेल भेज दिया जाए, परसो हमारे परिवहन संघ के अध्यक्ष को स्थानीय प्रशासन द्वारा बुलाकर चेतावनी के रूप में धमकी दी जा रही है डराया जा रहा है, और अब तो बदनाम भी किया जा रहा है कि हम लोग यहां तास जुआ खेल रहे हैं, सीधे-सीधे कहूं तो प्रशासन का इस कार्यक्रम को कुचलने का प्रयास जारी हैं, और ठीक कुछ यैसा ही प्रयास कुछ साल पहले परिवहन संघ के पंडाल कुर्सियों को तोड़ फोड़ कर IAS रणवीर शर्मा द्वारा भी किया गया था परन्तु जिनकी यहां से बिदाई कैसे हुई उसका साक्षी पूरा भानुप्रतापपुर रहा है, हमारी यूनियन वो यूनियन रही है जो जहां-जहां माइंस खुला हम ट्रक मालिकों ने अपनी टायरे फोड फोड जंगलों में रोड बनाई, हमारे भाईयों की मेटाबुदेली, बरबसपुर में गाड़ियां को नक्सलियों के द्वारा आग लगाया गया हमारे ड्राइवर कंडेक्टर को मारा पीटा तक गया, इन सारी विडंबना उसे हमारा यूनियन शुरू से ही जुझता आया है, और अगर किसी गांव में मांइस खुलने की भी संभावना है तो वहां पहले से ही गांव की समितियां बनकर तैयार हो जाती है जो कि हम मानते हैं कि उनका अधिकार भी है क्योंकि उनके गांव का माइंस है तो उनका अधिकार तो होगा ही परंतु बिना गाड़ी के समिति उसका संचालन कैसे करेगी इस मामले को टोटल मिसगाइड प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है, और अब इधर ठेकेदार मैंने उस दिन भी कहा था यह व्यापार अवसर का हो चुका है जिसकी सरकार उसका ठेकेदार आज प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है तो प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष राम अग्रवाल जी ठेकेदार है, यही बीजेपी की सरकार थी तो अपेक्स बैंक के चेयरमैन भाजपा नेता महावीर सिंह राठौर जी कच्चे माइंस के ठेकेदार थे और मैं फिर एक बार बोलता हूं हमारे यहां माइंसो में वीआईपी कल्चर यहीं से चालू हुआ था, जिसका खामियाजा हम आज दिनांक तक भुगत रहे समय-समय पर दोनों ने यूनियन को लूटा है, और यह दोनों ही क्यों माइंसो के जितने भी ट्रांसपोर्टर है सभी ने अपने हिस्से की हकदारी के लिए हमारे हक की रोटी छीनी है, और भानुप्रतापपुर परिवहन संघ को बर्बाद किया है बर्बाद और यह यूनियन ऐसे ही दलालों के निशानों का अड्डा रही है, ट्रांसपोर्टर यहीं नहीं रुके इतना‌ खाने के बाद भी इनका पेट नहीं भरा अपने ही पैसे को मार्केट में अपने किसी खास व्यक्ति के पास रख कर हर फर्जी को कैश कर उसकी भी दलाली खाई जाती है, और नीचताई की हद तब हो गई जब डायरेक्ट के नाम से गाड़ियां लगाकर उसकी भी कमीशन खाई गई, और डायरेक्ट गाड़ी वाले हमारे बंधु सुन लो इस मंच में भी कई व्यक्ति होंगे जिनकी गाड़ियां डायरेक्ट चल रही होगी वह व्यक्ति हमारे यूनियन के भाइयों के हक की रोटी को भी चोरी कर रहा है वह  हमारे यूनियन का भाइयों कैसे हितैषी हो सकता है आप खुद बताइए क्या वह हमारा हितैषी हो सकता है.. ?? यह भी उतने ही दोषी गुनाहगार हैं इस यूनियन के जितना कि रामगोपाल अग्रवाल, और भाइयों हम सब इन बातों से परे को इस यूनियन के मामले में राजनैतिक,सामाजिक, जातीय, वैचारिक मतभेदों से ऊपर होकर यूनियन के हक के अधिकार की लड़ाई लडनी है ,जिससे हम सबका पेट घर चलता है, इस मंच राजनीतिक मंच में तब्दील ना करें ,पहले ही दिन मेरे मंच पर बोलने पर पीठ पीछे कहा गया था कि राजनीति ना करें जबकि उस दिन भी मैंने कोई राजनीतिक भाषण नहीं दिया था सिर्फ कहा था मांइसो मे ट्रांसपोर्टरों का काम अवसरों का धंधा व्यापार है जो आज कांग्रेस कर रही है बीजेपी ने भी वही किया था बीजेपी नेता जो बच्चे के ट्रांसपोर्टल रहे हैं उनका तो पुतला तक जल चुका है और उस समय भी अध्यक्ष यूनियन के गुरदीप सिंह ढिढसा रहे जिनके ऊपर एफआईआर तक दर्ज हुई थी, इन सारी बातों से अवगत कराने का अर्थ यही है कि मुझे व्यक्तिगत रुप से बोला गया कि मैं राजनीति कर रहा हूं, उस दिन मैंने बोला था कि शायद हम कांग्रेस के कभी सदस्य भी थे तो आदरणीय अभय पांडे अंकल जी बोल रहे थे शायद क्या तुम थे कांग्रेस के तो भूल चुके हू कि मैं कभी कांग्रेस के सदस्य था इसीलिए शायद शब्द का प्रयोग किया गया था और मैं किसी राजनीतिक पार्टी का सदस्य तक नहीं हूं और ना ही किसी पार्टी से मेरा घर नहीं चलता है, मेरा घर चलता है इस यूनियन से इसलिए इस यूनियन के हक अधिकार के लिए मैं हर उस व्यक्ति को आड़े हाथ ले सकता हूं जो यूनियन के खिलाफ हो क्योंकि मेरी रोजी-रोटी है, बहुत सारी विडंबना है कई बार देखकर लगता है अपना रूल्स रेगुलेशन लागू हो जाए तो पर बहुत सी बातें हैं जो आप लोगों को राजनेताओं ने ही जानने नहीं दिया हमारे ही लोगों के समझ से परे हैं जल जंगल जमीन हमारा है हमारा है से का अर्थ सिर्फ तुषार ठाकुर से नहीं है यहां के लोकल स्थानीय आप सब लोगों से है, एक बार जरूर पांचवी अनुसूची को पढ़ें जिसका जिक्र पूर्व अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष देव लाल दुग्गा जी ने भी मंच पर किया पर मुझे नहीं लगा कि किसी ने उनकी बातों पर गौर किया आप हम सभी लोगों का स्थानीय नागरिकों का बहुत बड़ा हथियार है इसको तो हमारे राजनेताओं के द्वारा ही डराया गया है कि सामान्य लोगों उस कानून से व्यापार में खतरा है जिस दिन आप लोग इस जान को जान जाओगे उस दिन कोई अग्रवाल या बाहरी व्यक्ति हमारा काम नहीं छीन सकता है ।

छत्तीसगढ़ शासन का उपक्रम छत्तीसगढ़ मिनरल डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड ( सीएमडीसी ) आरी डोंगरी लौह अयस्क खदान भैसाकन्हार माइंस के खदान ठेकेदार के द्वारा भानुप्रतापपुर परिवहन संघ को लौह अयस्क परिवहन कार्य से वंचित किये जाने से नाराज परिवहन संघ के 500 सदस्यों  तहसील कार्यालय के सामने अनिश्चित कालीन धरने पर बैठ  है।

अध्यक्ष गुरदीप सिंह ढींडसा उपाध्यक्ष मुकेश ठाकुर ,सचिव संतोष पारख , कोषाध्यक्ष अरविंद जैन,सह सचिव पंकज संचेती,निखिल सिंह राठौर, तुसार ठाकुर और कार्यकारिणी सदस्य कृष्णा टेकाम ,लक्ष्मी कांत ठाकुर हितेश तिवारी, दीपक गजेंद्र, राजेंद्र जयसवाल ,सुशांत ठाकुर सहित संघ के सदस्य उपस्थित रहे।