breaking news New

Home Minister शाह से मुलाकात कर CM बघेल ने की नक्सल मोर्चे पर सीआरपीएफ जवानों की तैनाती पर विस्तार से चर्चा

Home Minister शाह से मुलाकात कर CM  बघेल ने की नक्सल मोर्चे पर सीआरपीएफ जवानों की तैनाती पर विस्तार से चर्चा

रायपुर। केंद्रीय गृहमंत्री के साथ हुई बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के 7 नक्सल प्रभावित जिलों को दिए जाने वाली विशेष सहायता राशि को फिर से शुरू करने का आग्रह किया है। 

दिल्ली में  Home Minister अमित  शाह से मुलाकात कर छत्तीसगढ़ के CM  भूपेश बघेल ने बुधवार को मुख्य रूप से जीएसटी प्रणाली से राज्य के संसाधनों पर हुए असर तथा नक्सल समस्या से जुड़े नीतिगत विषयों पर गृहमंत्री से विस्तार से चर्चा हुई। 

इसके साथ ही नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में संचार सुविधा बढ़ाने, बस्तर में सीआरपीएफ की दो और बटालियन की तैनाती, बस्तरिया बटालियन के गठन सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इन मांगों पर जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने जीएसटी क्षतिपूर्ति का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि राज्यों को दी जाने वाली जीएसटी क्षतिपूर्ति बंद करने पर राज्य की आर्थिक स्थिति पर प्रभाव पड़ेगा। 

नक्सल प्रभावित राज्यों में विकास कार्य के लिए राशि नहीं मिलेगी तो इसका काफी असर पड़ेगा। इस पर भी सहानुभूति पूर्वक विचार का आग्रह किया है। मुलाकात के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सुझावों और आग्रह पर गंभीरता पूर्वक विचार कर मांगों को पूरी करने का आश्वासन दिया है। 

इस बैठक में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू और पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा भी शामिल रहे। बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने बताया, छत्तीसगढ़ से संबंधित बहुत से मुद्दों पर गृह मंत्री से चर्चा हुई है। वहां तैनात सीआरपीएफ का भुगतान 11 हजार करोड़ रुपये काट लिया गया है। मैंने निवेदन किया है कि जैसे पूर्वोत्तर में माफ करते हैं उसी तरह से छत्तीसगढ़ में भी विशेष तौर पर इसे माफ किया जाए।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर अंचल में निवेश आकर्षित करने के लिए केंद्र से कुछ रियायत मांगी। उन्होंने कहा, बस्तर अंचल में लौह अयस्क प्रचुरता से उपलब्ध है। यदि बस्तर में स्थापित होने वाले स्टील प्लांट्स को 30% डिस्काउन्ट पर लौह अयस्क उपलब्ध कराया जाए, तो वहां सैकड़ों करोड़ का निवेश तथा हजारों की संख्या में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर निर्मित होंगे।

मुख्यमंत्री ने बुधवार की बैठक में जिन मुद्दों को उठाया है, उनमें से कई पर पहले से ही बात हो रही है। इससे पहले जनवरी 2020 में रायपुर में हुए मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री के साथ मुख्यमंत्री की विस्तृत चर्चा हुई थी। नवंबर 2020 में मुख्यमंत्री ने दिल्ली जाकर अमित शाह से मुलाकात की थी।

पिछले साल अप्रैल में बीजापुर में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए नक्सली हमले में 23 जवानों की शहादत के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह छत्तीसगढ़ पहुंचे थे। उन्होंने रायपुर में भर्ती घायल जवानों से मुलाकात की थी। 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राज्य सरकार, केंद्रीय सुरक्षा बलों के अधिकारियों के साथ बैठक कर हालात की समीक्षा की। जवानों का हौसला बढ़ाने वे बीजापुर के बासागुड़ा कैंप पहुंचे।