breaking news New

सीएम भूपेश ने RSS संघ का अपमान किया, अपमान सहन नहीं करेगी भाजपा : भाजयूमो अध्यक्ष अंकित

सीएम भूपेश ने RSS संघ का अपमान किया, अपमान सहन नहीं करेगी भाजपा : भाजयूमो अध्यक्ष अंकित

सक्ती। नगर के भाजयूमो अध्यक्ष अंकित अग्रवाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर जमकर निशाना साधा।  अंकित अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने RSS संघ का अपमान किया है, जो बहुत ही निंदनीय है। इस अपमान को हम नहीं सहेंगे। उन्होंने आगे बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भारत का एक , हिन्दू राष्ट्रवादी, अर्धसैनिक, स्वयंसेवक संगठन हैं, जो व्यापक रूप से भारत के सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी का पैतृक संगठन माना जाता हैं।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ विश्व का सबसे बड़ा स्वयंसेवी संस्थान है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक  संगठन भारतीय संस्कृति और नागरिक समाज के मूल्यों को बनाए रखने के आदर्शों को बढ़ावा देता है और बहुसंख्यक हिंदू समुदाय को मजबूत करने के लिए हिंदुत्व की विचारधारा का प्रचार करता है।

अंकित अग्रवाल ने कहा द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान यूरोपीय अधिकार-विंग समूहों से प्रारंभिक प्रेरणा मिली। धीरे-धीरे RSS एक प्रमुख हिंदू राष्ट्रवादी छतरी संगठन में उभरा, कई संबद्ध संगठनों को जन्म दिया जिसने कई विचारधाराओं, दानों और क्लबों को अपनी वैचारिक मान्यताओं को फैलाने के लिए स्थापित किया। संघ में संगठनात्मक रूप से सबसे ऊपर सरसंघचालक का स्थान होता है जो पूरे संघ का दिशा-निर्देशन करते हैं। सरसंघचालक की नियुक्ति मनोनयन द्वारा होती है। प्रत्येक सरसंघचालक अपने उत्तराधिकारी की घोषणा करता है। वर्तमान में संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत हैं।

उन्होंने आगे कहा कि संघ के ज्यादातर कार्यों का निष्पादन शाखा के माध्यम से ही होता है। जिसमें सार्वजनिक स्थानों पर सुबह या शाम के समय एक घंटे के लिये स्वयंसेवकों का परस्पर मिलन होता है। वर्तमान में पूरे भारत में संघ की लगभग पचपन हजार से ज्यादा शाखा लगती हैं। वस्तुत: शाखा ही तो संघ की बुनियाद है जिसके ऊपर आज यह इतना विशाल संगठन खड़ा हुआ है। शाखा की सामान्य गतिविधियों में खेल, योग, वंदना और भारत एवं विश्व के सांस्कृतिक पहलुओं पर बौद्धिक चर्चा-परिचर्चा शामिल है। प्रदेश के छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल RSS का तुलना नक्सलियों से की ये घोर निंदनीय है  भारतीय जनता पार्टी और युवा मोर्चा के सभी कार्यकर्ता इस टिप्पणी की कड़ी निंदा करते है।