सपा के राज्यसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा का निधन

सपा के राज्यसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा का निधन

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और राज्यसभा सांसद बेनी प्रसाद वर्मा का निधन हो गया है. 79 साल के बेनी प्रसाद वर्मा ने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अंतिम सांस ली. समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के करीबी नेताओं में गिने जाने वाले पार्टी के संस्थापक सदस्य बेनी लंबे समय से बीमार चल रहे थे.

बता दें कि 11 फरवरी 1941 को जन्मे बेनी प्रसाद वर्मा के निधन की खबर से समाजवादी पार्टी के साथ ही सियासी हलके में शोक की लहर दौड़ गई है.

बेनी प्रसाद वर्मा कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के दूसरे कार्यकाल के दौरान केंद्रीय मंत्री भी रहे. उनके पास इस्पात मंत्रालय था. कुर्मी बिरादरी से आने वाले राज्यसभा सांसद बेनी पहली बार साल 1996 में संचार राज्यमंत्री बने थे.

बेनी प्रसाद वर्मा साल 1996 से 1998 तक एचडी देवगौड़ा की सरकार में संचार राज्यमंत्री रहे. साल 1998 में देवगौड़ा सरकार की विदाई के बाद वे प्रदेश की सियासत में लौटे और लोक निर्माण विभाग और संसदीय कार्य मंत्री का दायित्व संभाला.

बेनी प्रसाद वर्मा ने चार बार बहराइच के कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया. वह 1999 में सपा छोड़ जनता दल में शामिल हुए. फिर समाजवादी क्रांति दल भी बनाया. बेनी प्रसाद वर्मा कांग्रेस में भी शामिल हुए. कांग्रेस के टिकट पर साल 2009 में कैसरगंज सीट से सांसद निर्वाचित हुए. बेनी को डॉक्टर मनमोहन सिंह की सरकार में इस्पात जैसे अहम मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई.

अभी पिछले साल ही उनके घुटने की सर्जरी मैक्स हॉस्पिटल में हुई थी. उनके निधन की खबर से समाजवादी पार्टी में शोक की लहर दौड़ गई. उनके गृह जनपद बाराबंकी में भी शोक है. कई नेताओं ने बेनी के निधन पर शोक प्रकट किया है.