कोरोना को लेकर ट्रम्प को किया गया गुमराह :विशेषज्ञ

 कोरोना को लेकर ट्रम्प को किया गया गुमराह  :विशेषज्ञ

वाशिंगटन।  अमेरिका के वरिष्ठ स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने सार्वजनिक स्वास्थ्य पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को व्हाइट हाउस के सलाहकारों ने कोविड-19 महामारी पर भ्रामक जानकारी प्रदान करके गुमराह किया।

अमेरिकी संस्था नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (एनआईएच) की सहयोगी संस्था नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीज के निदेशक एंथनी फौसी ने सीएनएन को बताया कि व्हाइट हाउस के सलाहकार स्कॉट एटलस ने कोविड-19 से संबंधित जो जानकारी प्रदान की वह ‘उसको गलत संदर्भ में लिया गया या वह वास्तव में भ्रामक थी।’

स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में तंत्रिका विकिरण विज्ञान के पूर्व प्रमुख एटलस ने एक बार कोरोना के मद्देनजर अमेरिका में ठप पड़ी व्यवस्थाएं को फिर से शुरू करने के लिए लॉकडाउन को समाप्त करने का आह्वान किया था। उन्हें फेस मास्क का महत्व कम करने और ‘रोग प्रतिरोधक क्षमता’ पर रखे अपने विचारों के लिए जांच का सामना करने पड़ा।

एनबीसी ने अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड के हवाले से कहा, “एटलस ने जो कुछ भी कहा वह सब कुछ गलत है।”

व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी किया जिसमें एटलस ने अपने आप का बचाव करते हुए कहा, “मैंने जो कुछ भी कहा वह डाटा और साइंस से सीधा संबंधित है।”