breaking news New

राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के अध्यक्ष मरकाम के निधन पर किया शोक व्यक्त

राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के अध्यक्ष मरकाम के निधन पर किया शोक व्यक्त

रायपुर, 29 अक्टूबर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरा सिंह मरकाम के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

सुश्री उइके ने आज यहां जारी संदेश में कहा कि श्री मरकाम ने जनजातीय समाज में जागरूकता फैलाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनके निधन से समाज को अपूरणीय क्षति पहुंची है।

उन्होंने उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है और उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वरिष्ठ आदिवासी नेता हीरा सिंह मरकाम के निधन पर गहरा दुःख प्रकट किया है। छत्तीसगढ़ में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के संस्थापक और पूर्व विधायक हीरा सिंह मरकाम का निधन बुधवार की शाम हुआ। वे 79 वर्ष के थे। पार्टी की छत्तीसगढ़ इकाई के उपाध्यक्ष कुलदीप सिंह मरकाम ने बताया कि हीरा सिंह मरकाम पिछले कुछ समय से बीमार थे तथा उन्हें बिलासपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके परिवार में पत्नी और दो पुत्र हैं। 

मध्य छत्तीसगढ़ के प्रमुख आदिवासी नेता हीरा सिंह मरकाम अविभाजित मध्यप्रदेश के तानाखार विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर पहली बार वर्ष 1985 में विधायक चुने गए थे। बाद में वर्ष 1991 में उन्होंने गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के नाम से नई पार्टी का गठन कर लिया था। वह कोरबा जिले के तानाखार विधानसभा से वर्ष 1996 और 1998 में विधायक चुने गए। पार्टी की स्थापना के बाद से ही हीरा सिंह मरकाम उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। कुछ समय पहले ही उन्होंने अपने बड़े बेटे तुलेश्वर सिंह मरकाम को अपना कार्यभार सौंपा था।