breaking news New

महान व्यक्तित्व और प्रेरणा स्रोत विश्वरत्न बाबा साहेब की बीजापुर सर्व समाज ने मनाई 131 वीं जयंती

महान व्यक्तित्व और प्रेरणा स्रोत विश्वरत्न बाबा साहेब की बीजापुर सर्व समाज ने मनाई  131 वीं  जयंती

बीजापुर। डॉ भीमराव  अम्बेडकर को हमारे देश में एक महान व्यक्तित्व और नायक के रुप में माना जाता है तथा वह लाखों लोगों के लिए  प्रेरणा स्रोत भी है। बचपन में छुआछूत का शिकार होने के कारण उनके जीवन की धारा पूरी तरह से परिवर्तित हो गयी। जिससे उन्होंने अपने आपको उस समय के उच्चतम शिक्षित भारतीय नागरिक बनने के लिए प्रेरित किया और भारतीय संविधान के निर्माण में भी अपना अहम योगदान दिया। 


भारत के संविधान को आकार देने और के लिए डॉ भीमराव अम्बेडकर का योगदान सम्मानजनक है। उन्होंने पिछड़े वर्गों के लोगों को न्याय, समानता और अधिकार दिलाने के लिए अपने जीवन को देश के प्रति समर्पित कर दिया।

ऐसे महामानव ज्ञान के प्रतीक विश्व रत्न भारत के संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की 131 वीं जयंती के अवसर पर सर्व समाज के लोगों ने नगर में विशाल  बाईक रैली निकाली।

रैली में जिले के अलग अलग ग्रामो से आये हजारो ग्रामीणों से  शहर में ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे जनसैलाब निकला हो इस दौरान जयभीम के नारो से बीजापुर सहर गुंज उठा ।

स्थानीय सांस्कृतिक मैदान से बाइक रैली निकाल कर नया बस स्टैंड पर स्थित डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर सर्व समाज के द्वारा माल्यार्पण और दीप जला कर जय भीम नारे लगायें।

इसके इसके पश्चात बाइक रैली मुख्यमार्ग से गुजरे जहां मुस्लिम समाज के साथ क्षेत्रीय  विधायक ने रैली को शरबत पिलाये एवं जैन समाज ने भी महावीर जयंती पर  सभी को ठंडा शर्बत पिलाकर रैली का स्वागत किए।

जिसके बाद बाइक रैली मुख्यमार्गों से गुजरते हुए सांस्कृतिक भवन के पास आमसभा में तब्दील हो गई। आमसभा में वक्ताओं ने डॉ भीमराव अंबेडकर को याद करते हुऐ उनके जीवनी पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बस्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष व क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी ने डॉ भीमराव अंबेडकर को याद करते हुऐ कहा कि बाबा साहब एक महापुरुष थे उनके विचार आज भी युवाओं को प्रेरित करते हैं उन्हें समानता और ज्ञान का प्रतीक माना जाता है।


उन्हें किसी खास झंडे या राजनैतिक विचार में नही बंधा जा सकता। रायपुर से आये एडवोकेट केडी टंडन व इंजीनियर एमपी मधुकर, सुनील कोल्हाड ने भी बाबा साहेब के विचारो को व्यक्त किया। कार्यक्रम में जिले के विभिन्न क्षेत्रों में नाम रौशन करने वाले लोगों सम्मानित किया गया।

जिसमें स्वास्थ्य चिकित्सा, शिक्षा, समाज सेवा, लेखन, पत्रकारिता सहित खेल और नृत्य भी शामिल रहे। कार्यक्रम के दौरान जगदीश झाडी के सहयोगियों द्वारा मनमोहक गीतों से सभी का दिल जीत लिया।

पूरे कार्यक्रम में  पुरुषोत्तम चन्द्राकर एवं राजकुमार टंडन ने मंच संचालन किये के अंत मे आयोजन समिति के सर्व समाज प्रमुख कामेश्वर दुब्बा ने आभार व्यक्त कर कार्यक्रम को सफल बनाने पर सभी को धन्यावाद ज्ञापित किये !