बेमेतरा जिले के ग्राम तुमा में पेयजल की समस्या , लोग खारा पानी पीने के लिए मजबूर

बेमेतरा जिले के ग्राम तुमा में पेयजल की समस्या , लोग खारा पानी पीने के लिए मजबूर

बेमेतरा।  दूर ग्रामीण अंचल ग्राम तुमा में  कल से मीठे पानी का पाइप टूट जाने से पूरे गांव में जल सप्लाई नहीं हो सकी। जिसके कारण लोग दूर नदी से या अपने साधनों से पीने हेतु जल निस्तार के लिए जल लाने के लिए कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं ।इस क्षेत्र में बेमेतरा के अमोरा घाट  शिवनाथ नदी का मीठा जल 35 किलोमीटर दूर तुमा जिला क्षेत्र में पहुंचाया जाता है । केंद्र सरकार के मीठा जल प्रदाय योजना के अंतर्गत ग्राम तुमा में जल सप्लाई किया जाता है। नवागढ़ का यह बेल्ट पूरी तरह से खारे पानी पर बसा हुआ है एकमात्र मीठा पानी का स्रोत शिवनाथ नदी है।ग्राम तुमा मीठा जल प्रदाय योजना का अंतिम नाम है यहां से पाइप लाइन और कहीं नहीं गई है। यहां किसी तरह की देखरेख और मॉनिटरिंग नहीं की जाती है ।विद्युत विभाग के द्वारा बिजली खंभों के सुधार के दौरान यहां पाइपलाइन टूटा है ऐसी जानकारी प्राप्त हुई है करो ना काल के संकट में पूरे गांव के लोगों को बाहर निकल कर पानी लाना पड़ रहा है नल जल योजना से बहुत कम समय जल सप्लाई किया जाता है मुश्किल से मीठा जल के नाम पर दो बाल्टी पानी घरों में यह सार्वजनिक नलों में दी जाती है बाकी सब निस्तार लोग खारे पानी हैंडपंपों अथवा दूर नदी से लाते हैं ।शिवनाथ नदी यहां केवल 8 किलोमीटर दूर बहती है सरकार चाहे तो दो तीन ग्रामों के समूह तुमा झुरिया मऊ का बना करके नदी से मीठा जल प्रदान कर सकती है किंतु यहां कई बार जल प्रदाय योजना कागजों में बनाई गई ठेके दिए गए टंकियां बनाई गई पाइप लाइन बिछाई गई केंद्र सरकार की योजना के माध्यम से बहुत दूर 35 किलोमीटर से ग्राम तुमा में जल प्रदाय प्रारंभ किया गया है। जबकि स्थानीय स्तर पर शिवनाथ नदी का अपार जल प्रवाहित होता है बड़ी टंकी और बड़े पाइप लाइन के निर्माण से आसपास के 5 से 10 गांवों को मीठा जल प्रदान किया जा सकता है यह शासन द्वारा किए गए सर्वे सरकारी योजनाओं के निर्माण के अभाव में यहां के लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। जो कार्य कम लागत में किया जा सकता है ।सघन आबादी वाला गांव है । 2 दिन से पाइपलाइन टूटा है और जल के लिए कठिनाइयों का  लोग सामना कर रहे हैं विभाग ना जाने इस समस्या का कितने दिन में समाधान करेगा।शासन प्रशासन एवं सरकार से अपेक्षा की  जाती है कि  शिवनाथ नदी  इसी गांव तुमा से गुजरती है जहां से यही नल जल प्रदाय योजना प्रारंभ की जाए"।