breaking news New

रिश्वत मामले में बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर को चार साल की सजा और 20 हजार रुपए का अर्थदंड

रिश्वत मामले में बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर को चार साल की सजा और 20 हजार रुपए का अर्थदंड

नड़ियाद।  गुजरात की एक अदालत ने रिश्वत मामले में मध्य गुजरात विज कंपनी लिमिटेड (एमजीवीसीएल) में बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर को चार साल की सजा और 20 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की ओर से आज यहां जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार सेशन कोर्ट, नडियाद ने रिश्वत मामले में आरोपी खेड़ा जिले के मध्य गुजरात विज कंपनी लिमिटेड, सब-डिवीजन, महेमदाबाद के जूनियर इंजीनियर राजेशभाई अ. मिस्त्री को चार साल की सजा सुनाई है तथा 20 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया है।

उल्लेखनीय है कि शिकायत के आधार पर राजेशभाई अ. मिस्त्री को एसीबी ने जाल बिछाकर करीब दस साल पहले बिजली का सप्लाई बहाल करने के लिए 15 हजार रुपये की लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था।