breaking news New

घर का ताला तोड़कर मोबाइल चोरी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

घर का ताला तोड़कर मोबाइल चोरी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

जांजगीर -चांपा। खैरा मोड़ नैला निवासी प्रार्थी ने चौकी उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 22.9.21 को शाम करीब 7:00 बजे जब वह अपने घर में ताला बंद करके गणेश विसर्जन देखने गई,जब लौटी उस समय देखी की उसके घर का ताला टूटा हुआ था घर अंदर जाकर देखी तो घर के अंदर चार्जिंग में लगे वीवो कंपनी और रेडमी कंपनी का दो मोबाइल घर से चोरी हो गया है कोई अज्ञात चोर चोरी कर दोनों मोबाइल ले गया है प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 474/ 21 धारा 457,380 भा द वि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

विवेचना के दौरान अज्ञात चोर की पतासाजी हेतु मुखबीर लगाए गए थे जो आज दिनांक आज 05.10.21 को मुखबिर से सूचना मिली की मेन रोड नैला में एक युवक मोबाइल बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहा है मुखबिर सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया पुलिस अधीक्षक महोदय श्रीमान विवेक शुक्ला(भापुसे)के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय श्री संजय महादेवा, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस  माधुरी धिरहि के मार्गदर्शन में मेन रोड नैला जाकर घेराबंदी कर रेड किया जो मौके पर आरोपी सुरेंद्र किरण उर्फ फत्ते पिता कार्तिक राम एक नग रेडमी मोबाइल के साथ पकड़ा गया सुरेंद्र किरण से पूछताछ करने पर उसने खैरा मोड एक घर से मोबाइल चोरी करना कबूल किया और बताया कि बताया कि 22.9.2021 को गणेश विसर्जन के दौरान वह खैरा मोड़ नैला की तरफ गया था तो देखा एक घर में ताला लगा हुआ था घर में कोई नहीं है देखकर उसने घर का ताला तोड़कर घर के अंदर चार्जिंग में लगे 2 नग मोबाइल वीवो कंपनी और रेडमी कंपनी के मोबाइल को चोरी कर लिया था

जिसमें से एक मोबाइल को बेचने के लिए मेन रोड नैला की तरफ गया था जो आज पकड़ा गया चोरी के दूसरे मोबाइल को भी आरोपी के कब्जे से जप्त कर लिया गया है जप्त मोबाइल की कीमत ₹22000 लगभग है आरोपी सुरेंद्र कुमार किरण उर्फ फत्ते पिता कार्तिक राम किरण उम्र 22 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 2 नैला चौकी नैला को धारा 457,380 भादवि के तहत गिरफ्तार कर  न्यायालय के समक्ष पेश किया गया जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर जिला जेल भेज दिया गया है उक्त कार्यवाही में चौकी प्रभारी नैला उनि सी.पी. कवर ,प्रधान आरक्षक प्रतिभा राठौर ,आरक्षक लक्ष्मीकांत कश्यप अमृत सूर्या एवं चौकी स्टॉफ़ का सराहनीय योगदान रहा।