breaking news New

टूलकिट मामले को लेकर भाजपा नेताओं ने धरना देकर राज्य सरकार के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

टूलकिट मामले को लेकर भाजपा नेताओं ने धरना देकर राज्य सरकार के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

गरियाबंद। कांग्रेस द्वारा प्रायोजित टूलकिट मामले को लेकर और इसमें भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने के विरोध में शनिवार को जिले के पांच बड़े भाजपा नेता ने सिटी कोतवाली के सामने दो घण्टा धरना देकर राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। धरने पर बैठने वाले नेताओं में पूर्व सांसद चन्दूलाल साहू, पूर्व विधायक संतोष उपाध्याय, किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी संदीप शर्मा, जिला भाजपा अध्यक्ष राजेश साहू, नगर पालिका अध्यक्ष अब्दुल गफ्फार मेमन शामिल थे।

भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि टूलकिट मामले में कांग्रेस की साजिश उजागर हो गई है। देश की छबि को खराब करने के लिए इस आपदा के दौरान टूलकिट तैयार किया गया था।

पूर्व सांसद चन्दूलाल साहू ने कहा कि देश और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छबि खराब करने के लिए कांग्रेस ने टूलकिट (गुप्त दस्तावेज) तैयार किया था। भारत देश में कोरोना ज्यादा फैला हुआ है और उसे नियंत्रण कर पाने में सरकार असमर्थ हो गई है, यह बताने टूलकिट जारी किया गया था। टूलकिट तैयार कर भ्रम फैलाने का प्रयास किया गया। जिसके विरुद्ध में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने स्टेटमेंट दिए थे। जिसको लेकर छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा एफआईआर दर्ज किया गया है। इसके विरोध में धरना प्रदर्शन कर गिरफ्तारी की मांग की गई, लेकिन हमें गिरफ्तार नहीं किया गया।

किसान मोर्चा प्रदेश प्रभारी संदीप शर्मा ने कहा कि टूलकिट मामले में जिस ढंग से पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है, उसके विरोध में आज जिला मुख्यालय के सिटी कोतवाली के सामने दो घण्टे तीन से पांच बजे तक राज्य सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करते हुए गिरफ्तारी की मांग की गई। वहीं बताया कि मामले को लेकर रविवार को जिले के मण्डलस्तर पर समस्त थाना एवं चौकी के सामने कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए सीमित संख्या में भाजपा कार्यकर्ता धरना देते हुए गिरफ्तारी की मांग करेंगे।

पूर्व विधायक संतोष उपाध्याय ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि टूलकिट उजागर होने के बाद कांग्रेस बौखला गई है। कांग्रेस अपनी गलतियां छुपाने के लिए जनता का ध्यान भटकाना चाह रही है। कांग्रेस टूलकिट के जरिए भारत देश और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की छबि खराब करना चाह रही है।

धरना के पूर्व भाजपा नेताओं का महिला मोर्चा एवं युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने गुलाल लगाकर स्वागत किया। जिसके बाद भाजपा नेताओं ने नगर के तिरंगा चौक से पैदल मार्च करते हुए सिटी कोतवाली के सामने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।