breaking news New

नक्सली बनकर व्यापारी के घर में की लूट, 5 लाख नकदी सहित गहने ले गए

नक्सली बनकर व्यापारी के घर में की लूट, 5 लाख नकदी सहित गहने ले गए

पखांजूर। मछली व्यापारी के घर नक्सली बनकर लूट की घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों के खिलाफ पखांजूर थाने में अपराध दर्ज हुआ है. ये घटना एक महीने पहले की है. व्यापारी पहले इस लूट को नक्सली समझ चुप रहा और इसकी जानकारी किसी को नहीं दी, लेकिन कुछ दिन बाद एक बार फिर रुपए की मांगे तो उसे आरोपियों के नकली नक्सली होने का शक हो गया. इसके बाद पीड़िता ने मामला पुलिस में दर्ज कराया.

पुलिस से मिली जानकारी मुताबिक, कापसी के ग्राम पी.व्ही. 122 निवासी विश्वजीत अधिकरी के घर 18 अक्टूबर की रात 9 बजे तीन अज्ञान युवकों ने उसका नाम ले घर से बुलाया, जैसे ही पीड़ित घर से निकाला युवकों ने उसे बंदूख दिखाते हुए उससे पैसे की मांग की. तीनों आरोपी नक्सलियों की वर्दी पहन रखी थी और लाल सलाम के नारे भी लगा रहे थे, और साथ में वाकी टाकी भी रखे हुए थे.

आरोपियों ने पीड़ित को जान से मारने की धमकी दी और उसकी पिटाई भी की. जिसके बाद उसके घर घुस नगद पांच लाख रुपए और दो लाख का सोने के जेवर साथ ले गए. मामले की जानकारी व्यापारी ने किसी को नहीं दी और न ही इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई.

इसके कुछ दिन बाद 5 नबंवर को फिर घर पहुंचे और उससे पांच लाख की मांग करते हुए रुपए लचांग गांव पहुंचाने की बात की. अगले दिन पीड़ित ने लचंग गया, जहां उसे दो युवक मिला लेकिन वर्तमान में रुपए न होने की बात कही. सात दिन के भीतर पैसे देने की मोहलत लेकर वह वापस आ गया. इसके बाद उसे युवकों के नक्सली होने पर शक होने लगा और उसने इसकी शिकायत पुलिस थाना पखांजूर में दर्ज कराई.

बता दें कि कुछ महीने पहले इसी गांव में एक अन्य मछली व्यापारी से भी इसी तरह नक्सली के नाम पर पत्र लिखकर रुपए की मांग की थी. मामला पुलिस में पहुंचा और इस मामले में उस व्यापारी के साथ काम करने वाली और पास ही के गांव के कुछ युवक नक्सली बन वसूली करने की बात सामने आई. यह मामला भी इसी तरह का लग रहा है. इसमें पीड़ित भी मछली व्यापारी से जुडा हुआ है.

इस मामले में पखांजूर थाना प्रभारी शरद दुवे ने बताया कि कापसी इलाके के पिव्ही नं.122 गांव के मछली व्यापारी विशोजित अधिकारी ने शिकायत दर्ज की है कि 18 अक्टूबर को तीन अज्ञात नकाबपोश व्यक्ति ने मेरे घर में घुस के बंदूक के नोंक पर 5 लाख रुपए नकद और 2 लाख के जेबरात ले गए. मामले में एफआईआर  दर्ज कर आरोपियों की पतासाजी की जा रही है. बहुत जल्द घटना से संबंधित सभी आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा.