breaking news New

राजनांदगांव जिले में मनाया जाएगा आजादी का अमृत महोत्सव, 18 से 22 अप्रैल तक सभी ब्लॉक में आयोजित होंगे स्वास्थ्य मेले

राजनांदगांव जिले में मनाया जाएगा आजादी का अमृत महोत्सव, 18 से 22 अप्रैल तक सभी ब्लॉक में आयोजित होंगे स्वास्थ्य मेले


राजनांदगांव। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। प्रत्येक व्यक्ति को अच्छे स्वास्थ्य का समुचित लाभ मिल सके, इस उद्देश्य के तहत स्वास्थ्य विभाग की तरफ से ब्लॉक स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। जिले के सभी विकासखंडों में 18 से 22 अप्रैल तक चलने वाले इन मेलों में स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न गतिविधियां जैसे. डिजिटल स्वास्थ्य आईडी निर्माण, गैर-संचारी रोग (मधुमेह-रक्तचाप-कैंसर) जांच, आयुष्मान भारत कार्ड निर्माण, स्वास्थ्य शिक्षा, बुनियादी स्वास्थ्य सेवाएं टेलीकन्सल्टेशन और रेफरल, योग-ध्यान, स्वास्थ्य मेला हेतु प्रचार-प्रसार आदि संचालित होंगी। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. मिथिलेश चौधरी ने बताया कि इस वर्ष ब्लॉक स्तर पर लगने वाला स्वास्थ्य मेला आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित होगा। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर होने वाले स्वास्थ्य मेलों के लिए सभी चिकित्सा अधीक्षकों व प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

स्वास्थ्य मेलों में जनमानस को अधिक से अधिक लाभ मिल सके, इसके लिए तैयारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य मेले आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य लोगों को विभिन्न तरह के संचारी व गैर-संचारी रोगों के प्रति जागरूक करना है तथा स्वास्थ्य-संबंधी मामलों पर लोगों को सजग बनाना है।

इस दौरान मरीजों को डिजिटल हेल्थ आईडी उपलब्ध कराया जाएगा। इसके आधार पर वे देश में कहीं भी अपना उपचार आसानी से करा सकेंगे। टेली कंस्लटेशन के जरिए विशेषज्ञ चिकित्सकों से इलाज की सुविधा, बेहतर स्वास्थ्य के लिए योग, मेडिटेशन से संबंधित जानकारी देते हुए लोगों को इसे नियमित रूप से अपने जीवन में शामिल करने के लिये प्रेरित किया जाएगा। 

स्वास्थ्य मेले में इन बीमारियों की होगी जांच

जिले में 18 अप्रैल से 22 अप्रैल तक सभी ब्लॉक में एक दिवसीय ब्लॉक आयुष्मान स्वास्थ्य मेला आयोजित किया जाएगा। स्वास्थ्य मेला में सामान्य चिकित्सा, मातृ स्वास्थ्य, बाल स्वास्थ्य, टीकाकरण, परिवार नियोजन परामर्श, मोतियाबिंद की जांच, आंख, कान एवं गले से संबंधित बीमारियों की जांच, दंत चिकित्सा जांच, त्वचा की जांच, पोषण के लिए परामर्श, एड्स नियंत्रण के लिए परामर्श, कुष्ठ नियंत्रण, टीबी नियंत्रण, मलेरिया, आंखों की जांच, धूम्रपान और तंबाकू के सेवन के बुरे प्रभाव की जांच, कैंसर नियंत्रण जागरूकता समेत अन्य संबंधित बीमारियों के इलाज संबंधी सेवाएं प्रदान की जाएंगी।