breaking news New

कर्मचारियों द्वारा दो दिवसीय हड़ताल कर सक्ती बीएमओ को सौंपा ज्ञापन

कर्मचारियों द्वारा दो दिवसीय हड़ताल कर सक्ती बीएमओ को सौंपा ज्ञापन


सक्ती।  छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के प्रांतीय आह्वान पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सक्ती के एन.एच.एम. स्टाफ 17 एवं 18 सितंबर को (सामुहिक हड़ताल) अवकाश पर रहने की सूचना बी.एम.ओ. सक्ती को दी गई।

छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ अपनी नियमितीकरण मांगों के संबंध निरंतर शासन प्रशासन को अवगत करा रही है, जो की उनकी जन घोषणा के बिंदु क्रमांक-11 अनियमित, संविदा एवं दैनिक वेतन भोगी कर्मियों को रिक्त पदों में नियमितीकरण की कार्यवाही की जाएगी एवं किसी की भी छटनी नहीं की जाएगी तथा बिंदु क्रमांक-30 राज्य सरकार की नौकरियों में आउटसोर्सिंग बंद होगी,   शासकीय विभागों के एक लाख रिक्त पदों को शीघ्र भरा जाएगा उल्लेखित  है।

किंतु वर्तमान परिदृश्य में जन घोषणा पत्र के प्रतिकूल कई विभागों में सीधी भर्ती के लिए विज्ञप्ति जारी की जा रही है जैसे स्वास्थ्य, उच्च शिक्षा, राजस्व, सहकारिता आदि विभाग शामिल है। उन रिक्त पदों पर कार्यरत अनियमित कर्मचारियों का समायोजन कर प्राथमिकता के आधार पर नियमितीकरण की कार्रवाई नहीं की जा रही है जिससे अनियमित कर्मचारियों में नियमितीकरण से वंचित एवं छटनी की स्थिति निर्मित हो गई है। लंबे समय से अनियमित कर्मचारियों की वेतन वृद्धि भी नहीं हुई है जिससे अनियमित कर्मचारीयो में असंतोष व्याप्त है एवं महासंघ इस प्रकार से हो रही सीधी भर्ती का पुरजोर विरोध करती है।

अतः प्रांतीय आह्वान पर "वादा के सुरता म" नियमितीकरण, वेतन वृद्धि, एवं छटनी रोको 03 सूत्रीय मांगों को लेकर दिनांक 17 एवं 18 सितंबर 2021 को आयोजित प्रांतब्यापी हड़ताल रायपुर में समस्त अनियमित अधिकारी/कर्मचारी सर्व विभाग के समस्त कार्यालयों में कार्यरत अनियमित संविदा कर्मचारी दो दिवसीय सामुहिक हड़ताल पर रहेंगे।

ज्ञापन सौपने वालो में श्रीमति अर्चना तिवारी, चिरंजीव चंद्रा, संजय बंजारे,विनोद राठौर, डॉ मो.अतीक,  ए.एम.ओ. दीपक तिवारी,डॉ संगीता चंदेल,डॉ प्रिया एक्का, ए.एम.ओ.विजय लहरे, ए.एम.ओ.अनिता दुबे, शिव पटेल, यशवंत ,अर्पिता सिदार, लक्ष्मी साहू,  स्मिता देवांगन, प्रतिभा साहू, पिंकी थवाईत, अंजू केरकेट्टा, इला जायसवाल, उमा बर्मन, उर्मिला बरेठ, सीमा उपाध्यक्ष, जैनेन्द्र साहू आदि स्टाफ  उपस्थित थे।।