breaking news New

चिटफंड मामले में पूर्व मंत्री के पुत्र और टीएमसी उम्मीदवार भुइयां को ईडी ने भेजा नोटिस

चिटफंड मामले में पूर्व मंत्री के पुत्र और टीएमसी उम्मीदवार भुइयां को ईडी ने भेजा नोटिस

कोलकाता । विधानसभा चुनाव के मद्देनजर केंद्रीय एजेंसियों ने अपनी जांच तेज कर दी है. अब केंद्रीय एजेंसियों ने आइकोर चिटफंड मामले में धन शोधन की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने टीएमसी उम्मीदवार मानस भुइयां और पूर्व मंत्री और कमरहट्टी विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार मदन मित्रा के पुत्र स्वरूप मित्रा को नोटिस भेजा है.

मानस भुइयां को 19 अप्रैल को साल्टलेक के सीजीओ कंपलेक्स स्थित जांच एजेंसी के दफ्तर में हाजिर होने को कहा है, जबकि मदन मित्रा के बेटे स्वरूप मित्रा को ईडी ने 23 अप्रैल को समन किया है. बता दें कि इसके पहले सारदा चिटफंड मामले में मदन मित्रा को गिरफ्तार किया गया था,लेकिन फिलहाल वह जमानत पर हैं.
बता दें कि इसके पहले राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और पार्षद बप्पादित्य दासगुप्ता को भी तलब किया गया था. 14 अप्रैल को इन दोनों को भी समन भेजा गया था. सूत्रों ने बताया है कि चिटफंड कंपनी के कार्यक्रम में मानस भुइयां और मदन मित्रा के बेटे ने शिरकत की है और पूछताछ के बाद उनके बारे में कई सारे तथ्य सामने आए हैं जिसके बाद इन्हें बुलाया गया है.

गौर हो कि करीब 12 साल पहले बाकी चिटफंड कंपनियों के साथ आईकोर ने भी पश्चिम बंगाल में जड़े जमाई थी और अधिक रिटर्न के नाम पर लाखों निवेशकों के रुपये गबन कर गई थी. 2015 में राज्य सीआईडी ने इसकी जांच शुरू की थी और कंपनी के मालिक अनुकूल माइती की पत्नी और दो निदेशकों को गिरफ्तार किया गया था. बाद में उसे जमानत दे दी गई थी. बाद में सीबीआई ने जब चिटफंड मामलों की जांच शुरू की तो आईकोर को भी सूची में शामिल कर लिया और ओडिशा से अनुकूल को धर दबोचा गया.