breaking news New

सेवासुगंधम समिति ने पिलाया आयुष काढ़ा व खिलाया अंकुरित चनों का आहार

सेवासुगंधम समिति ने पिलाया आयुष काढ़ा व खिलाया अंकुरित चनों का आहार


 हेमन्त मिश्रा

बलौदाबाजार, 29 मई। अंचल की सेवाभावी संस्था सेवासुगंधम सामाजिक जन कल्याण समिति के संस्थापक टिकेन्द्र उपाध्याय के दिशा निर्देशन में कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव में लगे कोरोना फ्रंट लाइन वारियर्स का मनोबल बढ़ाने गर्मियों में शीतल जल,लस्सी,मठ्ठा, नाश्ते में पूड़ी सब्जी, सेव,संतरा,प्रतिरोधक शक्ति बढ़ानेआयुष काढ़ा आदि का सेवन कराती रही है।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में अस्पतालों में भर्ती कोरोना मरीजों में प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के उद्देश्य से समिति ने मरीजों को आयुष काढ़ा पिलाने तथा अंकुरित अनाज का पौष्टिक आहार पूरे हफ्ते खिलाने का संकल्प लिया। डॉक्टर शैलेन्द्र साहू तथा डॉक्टर राकेश प्रेमी की अनुमति से डेडिकेटेड कोविड 19 हॉस्पिटल तथा मंडी में स्थापित नवीन कोविड सेंटर में प्रतिदिन प्रातः 7 से 8 बजे तक समिति के सदस्यों ने मरीजों को गर्म काढ़ा और अंकुरित अनाज शहर के थाना एवं चौक चौराहों में सुरछा दे रहे पुलिसके जवानों  वितरित किया। वितरण के कार्य में दोनों अस्पतालों के ड्यूटीरत मेडिकल स्टाफ ने इनका भरपूर सहयोग किया। समिति के संस्थापक टिकेन्द्र उपाध्याय ने बताया की काढ़ा बनाने और अंकुरित अनाज के पैकेट्स बनाने में ग्राम करही के बघेल परिवार के साथ साथ महिला समूह ने उनका  जी जान से जुटा रहता है। इसके अलावा समिति के सक्रिय और समर्पित सदस्य द्वारिका वर्मा,अनामिका विनोद जाधव,शैलेन्द्र देवांगन,सुरेश वर्मा,धवल धावलिया, प्रेमप्रकाश शर्मा, मुकेश धुरन्धर, और पवन यादव भी प्रतिदिन तैयारी और वितरण कार्य मे लगे हुए थे।


टिकेन्द्र उपाध्याय ने बताया कि उनका लक्ष्य है कि अस्पताल से छुट्टी होने के बाद मरीज अपने गांव जा कर आयुष काढ़े और अंकुरित अनाज के महत्व का प्रचार करें तथा गांव भर के लोगों की रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने का संकल्प लें। इस हेतु वे प्रत्येक मरीज को आयुष किट प्रदान कर रहे हैं जिसमे काढ़ा सामग्री तथा काढ़ा निर्माण विधि दी है। रायपुर आयुर्वेदिक कॉलेज,माहेश्वरी सभा भवन एवम एस टी छात्रावास भाटापारा में भी समिति द्वारा मरीजों के मध्य वितरण कार्य गत दिनों किया गया है।


इस सम्पूर्ण कार्य मे श्याम रतन मूंदडा, खेमलाल वर्मा,तरुण कंस्ट्रक्शन,लक्ष्मी बघेल,मंजू बघेल,सरिता ध्रुव, मीना वर्मा,आदित्य बघेल,वैशाली बघेल,वैभव बघेल,शांता मानिकपुरी,पुन्नी रजक,ललीता ध्रुव, शनि देव,सुभाष ध्रुव, डॉक्टर कल्याण कुरुवंशी,सीमा चंद्रवंशी,कुमुदिनी और उमेश नागेश का विशेष योगदान रहा है। समिति के संस्थापक टिकेन्द्र उपाध्याय ने आज अंतिम दिन अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ एवम सभी सहयोगी स्टाफ के प्रति आभार व्यक्त किया एवम इसी तरह के सहयोग के अपेक्षा की।