प्रॉपर्टी डीलिंग के कारण उतारा मौत के घाट, चार गिरफ्तार

प्रॉपर्टी डीलिंग के कारण उतारा मौत के घाट, चार गिरफ्तार


अंबिकापुर।
शहर में घटे दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया हैण् प्रॉपर्टी डीलिंग और सूदखोरी के कारण दोनों की हत्या की गई थी। पुलिस ने हत्या करने वाले दो आरोपी और उसके दो सहयोगी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
एसपी आशुतोष सिंह ने बताया कि यह मामला करोड़ों रुपए का लेन-देन का है। घटना के दिन सौरभ अग्रवाल व सुनील अग्रवाल आकाश गुप्ता के घर शराब पार्टी करने पहुंचे थे। इसी दौरान शूटर ने पीछे से आकर पहले सुनील पर गोली चला दीए जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई जिसे देख सौरव ने भागने की कोशिश कीण् इसे देख आकाश गुप्ता ने धारदार हथियार से सौरव पर हमला कर दिया व उसे भी गोली मार दी। दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गईण् इसके बाद दोनों को अपने घर के पीछे बाड़ी के एक कमरे में पहले से खोदे हुए गड्ढे में दफन  कर दिया गया और आरोपी आकाश गुप्ता जो कि मृतक का पड़ोसी था पुलिस व परिजनों को गुमराह करने साथ में ही गुमशुदा व्यक्तियों की तलाश में निकल गयाण् वही शूटर सिद्धार्थ पुलिस को गुमराह करने मृतकों की वाहन को आकाशवाणी चौक मैं छोड़कर फरार हो गए।
हत्या में इस्तेमाल किया गया तमंचा जिसे रमेश अग्रवाल के जरिए बरगी डी निवासी शिव पटेल ने उपलब्ध कराई थी उसे आकाश गुप्ता आरोपी द्वारा 90 हजार में खरीदा गयाण् हथियार दिलाने वाला मुख्य आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है उसकी गिरफ्त में आने के बाद ही पता चलेगा कि वह हथियार कहां से आरोपी को मुहैया कराई है।
दरअसल, मामला 2 करोड़ 70 लाख रुपए में जमीन खरीदी बिक्री का है जहां मृतक सौरभ ने आरोपी अकाश गुप्ता से उसकी बरम रोड स्थित भूमि को दो करोड़ 70 लाख रुपए में खरीदी थी जिसके एवज में मृतक द्वारा आरोपी गणों को केवल एक 1 करोड़ 23 लाख रुपए दिए गए थे और आरोपी के ऊपर घर खाली करने का दबाव बनाया जा रहा था जिससे आरोपी के द्वारा यह कदम उठाया गया है।