ट्रम्प के फंडिंग रोकने से डब्लूएचओ का बजट 14 प्रतिशत कम हुआ

 ट्रम्प के फंडिंग रोकने से डब्लूएचओ का बजट 14 प्रतिशत कम हुआ


जेनेवा।  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) को वित्त पोषण रोकने के फैसले से संगठन काे 55.3 करोड़ डॉलर का नुकसान होगा जो इसके बजट का लगभग 14.6 प्रतिशत है।

 ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ पर कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने में असफल रहने तथा इससे संबंधित सही जानकारी छुपाने का आरोप लगाते हुए उसे दिए जाने वाले फंड को रोकने का निर्देश दिया है।

डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट पर प्रकाशित आंकड़ोें के अनुसार अमेरिका ने 2018-2019 से सदस्यता शुल्क और स्वैच्छिक दान के रूप में कुल 55.3 मिलियन डॉलर का भुगतान किया। इस राशि में से 10.1 करोड़ डॉलर जेनेवा में डब्ल्यूएचओ कार्यालय पर, 15.1 करोड़ डॉलर अफ्रीकी कार्यक्रमों पर तथा 20.1 करोड़ डॉलर पूर्वी भूमध्यसागरीय कार्यक्रमों पर खर्च किए गए। इनमें से अधिकांश धन का उपयोग वैश्विक पोलियो उन्मूलन पहल को निधि प्रदान करने के लिए किया गया था।

बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन डब्ल्यूएचओ का दूसरा सबसे बड़ा दानदाता है। वह संगठन के द्विवार्षिक बजट का 9.76 प्रतिशत का योगदान देता है।

chandra shekhar