breaking news New

कमरगा में लगाया गया पुलिस जन चौपाल एवं जन समस्या निवारण शिविर

कमरगा में लगाया गया पुलिस जन चौपाल एवं जन समस्या निवारण शिविर

अनिता गर्ग

लैलूंगा के ग्राम कमरगा व भुईयांपानी के ग्रामवासियों को एसडीओपी धरमजयगढ़ किये अपराधों से जागरूक....

 चौपाल में ग्रामवासियों से एसडीओपी और थाना प्रभारी छत्तीसगढ़ी में किये चर्चा बोले “नशे से रहव दूर”....

 बरपाली और नवरंगपुर में #कोतरारोड़ पुलिस लगाई जन चौपाल....


            लैलूंगा/ थाना लैलूंगा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कमरगा में आज  शाम पुलिस जन चौपाल एवं जन समस्या निवारण शिविर लगाया गया । भीषण गर्मी व दिन के समय अधिकतर गांववाले ने जंगल तेंदूपत्ता तोड़ेजाने को देखते हुए शाम के समय चौपाल का आयोजन किया गया था जिसमें ग्राम कमरगा एवं भुईयांपानी के रहवासियों के साथ एसडीओपी धरमजयगढ़ दीपक मिश्रा, थाना प्रभारी लैलूंगा प्रवीण कुमार मिंज, उप निरीक्षक बलदेव साय पैकरा तथा थाना लैलूंगा के स्टाफ मौजूद थे ।

वहीं स्थानीय जनप्रतिनिधिनों से ग्राम कमरगा की सरपंच कुसुम खलखो, भुईयांपानी की सरपंच बालकुंवर भगत व गांव के गणमान्य लोग उपस्थित थे । जागरूकता कार्यक्रम में एसडीओपी धर्मजयगढ़ व थाना प्रभारी द्वारा छत्तीसगढ़ी में लोगों को सम्बोधित कर अपराधों की जानकारी दिए जिससे उन्हें सरलता से समझ आवे ।

एसडीओपी धर्मजयगढ़ द्वारा उपस्थित ग्रामवासियों को वर्तमान में हो रहे साइबर क्राइम के संबंध में उदाहरण देकर बताएं तथा अनजान व्यक्तियों को अपनी निजी जानकारी, बैंक, एटीएम आदि से संबंधित जानकारी बताने को मना किए । वहीं उन्होंने क्षेत्र में नशे के कारण क्षणिक झगड़ा विवाद में हुए घटनाओं का उदाहरण देकर ग्रामवासियों को नशे से दूर रहना बताएं ।

एसडीओपी धर्मजयगढ़ द्वारा बताएं कि नशे के कारण किस प्रकार क्षणिक आवेश में व्यक्ति बड़ी घटना कारित कर देता है जिसके बाद उसका परिणाम उसे जेल के रूप में भुगतना पड़ता है तो दूसरी ओर परिवार में बिखराव हो जाता है ।


उन्होंने गत दिनों ग्राम लमडांड में हुए घटना की जानकारी के साथ नशे के दुष्प्रभाव को समझाएं व नशे से दूर रहना बताएं । चौपाल में थाना प्रभारी द्वारा भी छत्तीसगढ़ी में ग्रामीणों को महत्वपूर्ण जानकारियां दिया गया वे बताये कि जिले में तथा आसपास के जिलों में बाहर से आकर अपराधिक किस्म के व्यक्ति किस प्रकार लूटपाट, चोरी जैसी वारदात कर फरार हो जाते हैं, उसके उदाहरण पेश कर गांव में बाहर से आने वाले फेरीवाले, सोना-चांदी चमकाने वाले, गैस रिपेयर के बहाने घूमने वालों की जानकारी तत्काल पुलिस को दिए जाने गांववालों को प्रेरित किये ।

उन्होंने गांव में जुआ, शराब, घटना दुर्घटना की जानकारी सीधे थाना प्रभारी या डायल 112 नंबर पर देना बताया व पुलिस सहायता के लिये भी कॉल करना बताये । कार्यक्रम में महिला, बच्चों से संबंधित जानकारी देकर अभिव्यक्ति मोबाइल ऐप के माध्यम से महिलाएं किस प्रकार शिकायत कर सकती हैं बताया गया ।

जन शिकायत निवारण शिविर में ग्रामीणों से एसडीओपी दीपक मिश्रा उनकी समस्याएं, शिकायतें पूछा गया जिस पर गांव के कुछ रहवासी गांव से घर दूरी पर होने से बिजली नहीं पहुंच पाने की शिकायत किये जिनसे आवेदन तैयार कराया गया और कहा गया कि आवेदन का बिजली विभाग को प्रेषित कर कार्यवाही कराया जावेगा ।

वहीं जमीन बंटवारा, सीमांकन आदि के संबंध में शिकायत के भी चौपाल में आवेदन तैयार कर लिया गया जिसे संबंधित विभाग को अग्रेषित कर कार्यवाही करना बताए जावेगा बताया गया ।

वही झगड़ा मारपीट जैसी पुलिस विभाग से संबंधित शिकायतों का आवेदन तैयार कर एसडीओपी द्वारा थाना प्रभारी लैलूंगा को अग्रेषित कर शीघ्र वैधानिक कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया है । कार्यक्रम में गांव वालों द्वारा पुलिस के इस पहल की उन्मुक्त कंठ से सराहना किये और आगे भी गांव आने का निमंत्रण दिए जिस पर पुलिस शीघ्र चौपाल का फीडबैक लेने आना बताया गया है ।


            वही थाना प्रभारी कोतरारोड  प्रभात कुमार (आईपीएस) एवं निरीक्षक चमन सिन्हा द्वारा थाना क्षेत्र के ग्राम नवरंगपुर एवं बरपाली में पुलिस जन चौपाल का आयोजन कर लोगों को अपराधों की जानकारी देकर उन्हें जागरूक करने के साथ उनकी समस्याएं सुने। मौके पर पुलिस विभाग से संबंधित शिकायतों का निराकरण के लिए कार्यवाही अमल में लाई गई तथा उपस्थित जन सामान्य को आईपीएस प्रभात कुमार द्वारा  साइबर क्राइम से संबंधित अपराध एवं बचाव के उपाय बताए । 

प्रभात कुमार ने लोगों से कहा कि साइबर अपराध को रोकने सबसे बड़ा हथियार जागरूकता है जागरूक रहें प्रात काल पर ध्यान ना दें ऐसे कॉल को ब्लॉक करें तथा किसी भी परिस्थिति में अपनी निजी जानकारी बैंक, एटीएम पिन व बैंक से जुड़े मोबाइल का ओटीपी अनजान व्यक्ति को नाम बतावे  ।

उन्होंने महिला को घरेलू हिंसा यौन उत्पीड़न के मामलों को सामने लाकर अपराधियों को सजा दिलाने कहा गया जिससे महिलाएं बालिकाएं सुरक्षित रहें उन्होंने नाबालिगों पर हो रहे अपराधों के संबंध में जानकारी देते हुए बच्चों का विशेष ध्यान देने कहा गया वह उन्हें गुड टच बैड टच की जानकारी देने बताएं ।

प्रभात कुमार द्वारा क्षेत्र में बीट पुलिसकर्मी तथा पेट्रोलिंग ग्राम कोटवार डायल 112 के माध्यम से गांव की गतिविधियों की सूचनाएं पुलिस अधिकारियों को दिए जाने लोगों को प्रेरित किया ।

उपस्थित लोगों की क्षेत्र में पेट्रोलिंग बढ़ाए जाने की मांग पर अतिरिक्त पेट्रोलिंग पार्टी से क्षेत्र में निगाह रखना बताएं। निरीक्षक चमन ‍सिन्हा प्रभारी द्वारा बालक, बालिका में फर्क किये बिना उन्हें  शिक्षित  करने कहा गया ।

महिला एवं यौन अपराधों, पास्को एक्ट में पुलिस द्वारा त्वरित कार्रवाई की जानकारी देकर ऐसे अपराधों को सामने लाने कहा गया । चौपाल में ग्रामवासियों को यातायात नियमों पालन करने एवं दुर्घटनाओं में कमी लाने के उपाय बताए । क्षेत्र में अवैध शराब, जुआ, सट्टा, गांजा की रोकथाम तथा महिला अपराधों के रोकथाम हेतु आवश्यक जानकारी दिया गया है ।

कार्यक्रमों में थाना प्रभारी प्रभात कुमार (आईपीएस) के साथ निरीक्षक चमन सिन्हा, एएसआई सोहन साहू एएसआई बक्साल प्रधान आरक्षक जय सिंह स्वादु उपस्थित थे ।