breaking news New

सुजुकी मोटर्स में चयनित भांसी आईटीआई के छात्रों की हुई रवानगी

सुजुकी मोटर्स में चयनित भांसी आईटीआई के छात्रों की हुई रवानगी

बचेली-भांसी स्थित एनएमडीसी डीएव्ही आईटीआई संस्था के छात्रों का गुजरात की कम्पनी हंसराज सुजुकी मोटर्स में चयन होने के बाद 28 छात्रो को 11 अक्टूबर, सोमवार को एनएमडीसी बचेली परियोजना के महाप्रबंधक द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

इस दौरान सीएसआर के उपमहाप्रबंधक सुनील उपाध्याय द्वारा    द्वारा  सभी  चयनित छात्रों का  यह कहते हुए उत्साह वर्धन किया कि  कोरोना के कारण दुनिया भर  में बहुत सारी कम्पिनियाँ  घाटे  में चल रही हैं  या पूर्णतः बंद हो गयी हैं । इसके कारण बहुत सारे लोगों को नौकरी से भी निकाल दिया गया है। परंतु एनएमडीसी आई.टी.आई. के छात्रों को इस विषम परिस्थियों में भी नौकरी मिलना किसी उपलब्धि से कम  नहीं है।  उन्होंने छात्रों को ये भी समझाया कि नौकरी मिलना  भी अपने आप में एक उपलब्धि है परन्तु नौकरी को मेहनत, ईमानदारी और लगन से करना उससे भी अधिक महत्वपूर्ण है इसलिए आप सभी को ईमानदारी  पूर्वक मेहनत करते हुए आगे बढ़ने का प्रयास करना चाहिए। ये  नौकरी एवं जो सैलरी आपको मिलने जा रही है यह अंतिम नौकरी या सैलरी नहीं है ये आपके जीवन का एक नया पड़ाव है और मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप  अपनी मेहनत व लगन से  आपके जीवन में ऐसी अनेकों उपलब्धियों को प्राप्त करेंगे। श्री सुनील उपध्याय  ने अभिभावकों का भी आह्वाहन किया कि आपको अपने बच्चों को नई चुनौतियों के लिए हमेशा तैयार करना चाहिए।

भविष्य में और भी कैम्पस ड्राइव का आयोजन किया जाएगा, ताकि अन्य छात्र भी अपनी प्रतिभा दिखा सके- महाप्रबंधक वेंकटेश्वलू

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में परियोजना के महाप्रबंधक श्री वेंकटेश्वरलु ने कौशल विकास, दृढ़ संकल्प और दृढ़ इच्छा शक्ति जैसे विषयों पर जोर दिया l उन्होंने ये भी बताया कि अंग्रेजी भाषा को अवरोध न समझें क्योंकि इसे धीरे-धीरे और निरंतर अभ्यास से सीखा जा सकता है l उन्होंने आदिवासी समुदाय के युवाओं को एनएमडीसी द्वारा दी जा रही शिक्षण सुविधाओं का लाभ उठाने का सुझाव भी दिया। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि निकट भविष्य में और भी कैम्पस ड्राइव का आयोजन किया जाएगा ताकि अन्य छात्रों को भी अपनी प्रतिभा दिखाने का ऐसा अवसर मिल सके। छात्रों को प्रेरित करने के लिए उन्होंने यह भी कहा कि उनने अपनी पहली नौकरी कम वेतन के साथ शुरू की  थी l और अपना कैरियर बनाने के लिए लंबे समय तक घर से दूर रहे। अंत में उन्होंने छात्रों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी एवं अनुशासन के साथ  कार्य करने की सलाह दी l  

उन्होंने यह भी बताया कि वे आई.टी.आई पहली बार आयें हैं और आई.टी.आई की सुविधाओं को देखकर अभीभूत हैं। उन्होंने छात्रों को सम्बोधित करते हुए  ये बताया कि वो 2 प्रशिक्षण कार्यक्रमों में  जर्मनी भी गये हैं परन्तु वहाँ भी इतनी अच्छी प्रशिक्षण सुविधायें उपलब्ध नहीं थी जितनी सुविधाएं  एनएमडीसी द्वारा आई.टी.आई, भांसी  में उपलब्धि कराई गई हैं। 

संस्था के  अधीक्षक कमलेश साहू के द्वारा सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित  किया गया तथा सभी चयनित अभ्यर्थियों को आई.टी.आई के समस्त स्टाफ की ओर से उनके जीवन की इस नई शुरुआत के लिए शुभकामनाएं दी गई और आशा व्यक्त कि इन छात्रों के बाहर जाकर कार्य करने से संस्था के दूसरे छात्रों को भी भविष्य में दूसरे राज्यों में जाकर कार्य करने की प्रेरणा व मार्गदर्शन मिलेगा।  

गौरतलब है कि गत दिनो सुजुकी मोटर्स हंसलपुर गुजरात कार असेम्बली प्लांट के द्वारा ओपन कैम्पस ड्राइव का आयोजन किया गया, जिसमे कुल 38 छात्रो का लिखित एवं मौखिक परीक्षा के उपरांत चयन किया गया था, जिसमे से 28 छात्र एनएमडीसी आईटीआई भांसी के है। छात्रो के रवानगी के दौरान अधिकारियों, संस्था के शिक्षकों सहित अभिभावक भी मौजूद रहे।