breaking news New

गर्भवती महिलाओं, किशोरियों को एनीमिया मुक्त करने,अभियान 1 सितंबर से

गर्भवती महिलाओं, किशोरियों को एनीमिया मुक्त करने,अभियान 1 सितंबर से

 अभियान को सफल बनाने जनप्रतिनिधियों से सहयोग करने कलेक्टर की अपील,

 सक्ती जांजगीर।  कलेक्टर  जितेंद्र कुमार शुक्ला ने जन, पंचायत प्रतिनिधियों से अपील कर कहा है कि वे 1 सितंबर से 30 सितंबर तक महिला एवं बाल विकास द्वारा संचालित सुपोषण अभियान को सफल बनाने सहयोग करें। 

      कलेक्टर ने जिले के जनप्रतिनिधियों के नाम जारी अपील में कहा है कि हम सभी जानते हैं कि आज के बच्चे आने वाले कल के कर्णधार हैं, भविष्य हैं। तब तक सुनहरे भविष्य की कल्पना  नहीं की जा सकती, जब तक हमारे बच्चे  कमजोर और कुपोषित हैं, इसलिए हम सभी की जवाबदारी है कि हमारा जिला हमारे बच्चे कुपोषण मुक्त हों और यह तब तक संभव नहीं है, जब तक  गर्भवती महिलाएँ, शिशुवती महिलाएँ, किशोरी बालिकाएं खून की कमी (एनीमिया) की शिकार है। कलेक्टर ने कहा है कि इसे दूर करने के लिए जन जागृति, जन आंदोलन की मुहिम चलाना आवश्यक है।

     कलेक्टर ने जिले के सांसद, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य, जनपद पंचायत के  अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य, ग्राम पंचायत के सरपंच, पंच, नंगर पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, पार्षदों एवं आम जनता से अनुरोध कर कहा है  कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कुपोषण को दूर करने एवं जन जागृति, जन आंदोलन के लिए पूरे 30 दिन की राष्ट्रीय पोषण माह की कार्ययोजना बनाकर प्रत्येक दिन अलग-अलग गतिविधियाँ ग्राम, शहर, वार्ड में संचालित की जा रहीं हैं। इस अभियान में प्रशासनिक स्तर पर सभी संबंधित विभाग सहयोगी बनेंगे। कलेक्टर ने सभी से अनुरोध कर कहा है कि वे इस पुनीत कार्य में अपनी सक्रिय सहभागिता से जन आंदोलन की मशाल जलाकर कल के सुनहरे भविष्य के लिए योगदान दें।