breaking news New

अंतर्राष्ट्रीय नर्स डे कोविड-19 हॉस्पिटल में नर्सों का सम्मान कर मनाया गया

अंतर्राष्ट्रीय नर्स  डे कोविड-19 हॉस्पिटल में नर्सों का सम्मान कर मनाया गया


दंतेवाड़ा, 12 मई। कोरोना काल में फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य कर रही स्वास्थ्य विभाग की नर्स द्वारा इस विषम परिस्थितियों में अपना अहम योगदान दे रही हैं और कोरोना संक्रमित मरीजों की सेवा कर रही है और जिले को कोरोना मुक्त बनाने के लिए  रात दिन अपनी ड्यूटी निभा रही हैं जिसे देखते हुए राजमोहिनी फाउंडेशन द्वारा इन कोरोना फाइटर्स नर्सों का स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा फुल व पेन देकर सम्मान किया गया इस मौके पर शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ राजेश धुव व उनकी टीम ने अहम योगदान दिया।

डॉ राजेश धुव ने बताया कि कोरोना संक्रमण से जहां एक तरफ पूरा देश कोरोना की चपेट में है वही इस विषम परिस्थितियों में स्वास्थ्य विभाग यातायात विभाग पुलिस विभाग आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिका मितानिन व जिले के सरपंच सचिव जिला के मुखिया कलेक्टर दीपक सोनी के मार्गदर्शन में युद्ध स्तर पर कार्य कर रहे हैं जिसका परिणाम है कि आज दंतेवाड़ा जिले में कोरोना महामारी से निपटने के सभी प्रबंध कर रखे हैं।

जिलों में अधिकारी कर्मचारियों की इसके लिए एक विशेष टीम बनाई गई है जिसके देखरेख मार्गदर्शन में जिले में कार्य किए जा रहे हैं जिले में अब तक 30000 से ज्यादा कोरोना किट वितरण किया जाना है जिसमें जिले के चारों ब्लॉक में सरपंच सचिव आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं स्वास्थ्य कर्मी का एवं योगदान रहेगा जो जिले के चारों ब्लॉक में डोर टू डोर जाकर इस किट का वितरण करेंगे।

जिलों में 100 बैड का ऑक्सीजन बनाया गया है और जिले 18 प्लस व 45 वर्ष से कम आयु वाले का टीकाकरण किया जा रहा है दूसरी और 48 वर्ष आयु वाले दादा दादी को सुगम स्वास्थ्य योजना के तहत गांव वालों को लाकर टीकाकरण करवाए जा रहा है जो जिले के लिए एक उपलब्धि है प्रत्यय जिले में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

आंध्र प्रदेश जाने वाली तीसरे चरण के लहर के लिए जिले में और भी कोविड-19 बनाए जा रहे हैं जिसको  स्वयं कलेक्टर महोदय मौके पर पहुंचकर अपनी देखरेख में कार्य करा रहे हैं जिससे कि दंतेवाड़ा को कोरोना मुक्त बनाए जा सके।