breaking news New

अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में नारायणपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता

अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में नारायणपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता

  
नारायणपुर। अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने एवं हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने में नारायणपुर पुलिस को  सफलता मिली है।
मामले में मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर,  नीरज चंद्राकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन एवं  अनुज कुमार पुलिस अनुविभागीय अधिकारी के पर्यवेक्षण में थाना कुरूषनार क्षेत्र में दिनांक 20.03.2021 को गुडरीपारा बासिंग में हुए अन्धे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में थाना कुरूषनार पुलिस को सफलता मिला है। दिनांक 09.03.2021 को माॅवली मेला नारायणपुर से फरसुराम सलाम पिता स्व0 श्री लक्ष्मण सलाम उम्र 40 वर्ष साकिन ओर्कीवाही, बहीगांव, थाना केशकाल, जिला कोण्डागांव के गुम होने पर दिनांक 17.03.2021 को थाना नारायणपुर में गुम इंसान रिपोर्ट दर्ज कर पता-तलाश की जा रही थी।

 दिनांक 20.03.2021 को थाना कुरूषनार क्षेत्र के गुडरीपारा बासिंग जंगल में क्षत-विक्षत एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। रिपोर्ट पर थाना कुरूषनार पुलिस द्वारा घटना स्थल पहुंचकर मर्ग कायम कर पंचनामा एवं जांच कार्यवाही में लिया गया। शव का पहचान नहीं होने बस्तर संभाग के समस्त थाना को अज्ञात शव की हुलिया व कपड़े की जानकरी देते हुए पता तलाश हेतु मैसेज किया गया। थाना नारायणपुर के गुम इंसान के परिवार वालों को थाना नारायणपुर द्वारा सूचना मिलने पर मृतक के पत्नि, माॅ, भाई के द्वारा दिनांक 24.03.2021 को नारायणपुर आकर जिला अस्पताल नारायणपुर में रखते शव एवं पहने हुए कपड़े को देखकर शव की पहचान फरसुराम सलाम पिता स्व0 लक्ष्मण सलाम उम्र 40 वर्ष निवासी कोर्कीवाही बहीगांव थाना केशकाल, जिला कोण्डागांव के रूप में पहचान किया गया।
पहचान कार्यवाही पश्चात परिजनों को शव सुपुर्द किया गया। शव की पहचान होने तथा शव परीक्षण रिपोर्ट मिलने के बाद कुरूषनार पुलिस द्वारा अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान आसपास क्षेत्र के ग्रामीणों से पूछताछ करने पर इस हुलिया के व्यक्ति को कोडोली होते हुए डुटाखार की ओर जाते देखा गया था, जिस पर ग्राम डुटाखार के ग्रामीणों से पतासाजी करने पर कमकाल पारा डुटाखार में मानसिक रूप से विक्षिप्त फरसुराम सलाम द्वारा सगऊ राम गोटा के मकान में घुस गया था जिससे उसकी पत्नी के चिल्लाने पर सगऊ राम एवं अन्य लोगों के द्वारा फरसुराम को घर से बाहर निकाल कर रस्सी से दोनों हाथ बांधकर मारपीट कर डण्डा व टंगिया से हत्या करने की घटना प्रकाश में आयी। थाना कुरूषनार की पुलिस द्वारा हत्या के मुख्य आरोपी सगऊराम गोटा पिता स्व. नोहरसिंग गोटा, उम्र करीबन 35 वर्ष, जाति गोड, साकिन कमकालपारा, ग्राम ढुटाखार, थाना कुरूषनार, जिला नारायणपुर (छ.ग.) एवं वादीराम सलाम पिता स्व. बनसिंग सलाम, उम्र करीबन 50 वर्ष, जाति गोड, साकिन कमकालपारा, ग्राम ढुटाखार, थाना कुरूषनार, जिला नारायणपुर (छ.ग.) से पुछताछ करने पर हत्या कर शव को गुडरीपारा बासिंग के जंगल में फेकना स्वीकार करने पर दिनांक 06.04.2021 को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेशकर जेल भेजा गया। अन्य आरोपियों की पता-तलाश जारी है। अन्धे कत्ल की गुत्थी सुलझाने मे थाना प्रभारी कुरूषनार  सुनील कुमार सिंह, सउनि  भुषणलाल यादव, प्र0आर0 नंदलाल शोरी एवं अन्य थाना स्टाफ बल का विशेष व अहम योगदान रहा।