breaking news New

धसकुड़ में मूलभूत सुविधाएं नहीं, पर्यटक निराश

धसकुड़ में मूलभूत सुविधाएं नहीं, पर्यटक निराश

सड़क बनाने की मांग ग्रामीण लंबे अर्से करते आ रहे पर ध्यान नहीं दिया जा रहा

महासमुंद । पुरा नगरी सिरपुर से 8 किमी दूर ग्राम बोरिद के सुप्रसिद्ध धसकुड़ जलप्रपात में इन दिनों रोज पर्यटकों की भीड़ उमड़ रही है। यहां रोज छत्तीसगढ़ के कोने-कोने से पर्यटक पहुंच रहे। प्राकृतिक के गोद बसे यह धसकुड़ जलप्रपात लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। लगातार पर्यटकों की संख्या बढ़ती जा रही है किंतु, यहां मूलभूत सुविधाएं न होने से लोगों में निराशा है।

धसकुड़ जलप्रपात तक पहुंचने के लिए सुगम सड़क तक नहीं है। कच्ची सड़क होने के साथ बड़े-बड़े पत्थरों से होकर गुजरना पड़ता है। पर्यटक यहां वाहनों को ले जाने कतराते हैं। यहां पक्की सड़क बनाने से पर्यटकों को आने जाने में काफी सुविधा होगी। सड़क बनाने की मांग ग्रामीण लंबे अर्से करते आ रहे हैं। किंतु, शासन-प्रशासन द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पक्की सड़क के लिए ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को ज्ञापन भी सौंपा है किंतु, नतीजा आज तक सिफर रहा।

क्षेत्र के जनपद सदस्य अजय मंगल सिंह ध्रुव ने बताया कि इस मार्ग की मरम्मत के लिए प्रशासन के आलाधिकारी के साथ जनप्रतिनिधों को भी ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया जा चुका है। लेकिन, सिर्फ आश्वासन ही मिला। उन्होंने बताया कि प्रशासन यदि धसकुड़ को पर्यटन स्थल घोषणा करता है तो क्षेत्र के युवा बेरोजगारों को भी रोजगार मिलेगा। अभी वर्तमान में ग्राम बोरिद कुछ जागरूक युवाओं ने जागृति सेवा समिति का गठन किया है, जो यहां पर आने वाले पर्यटकों के वाहनों की देखरेख करते हैं। यहां से धसकुड़ जलप्रपात दूरी केवल तीन सौ मीटर है।