breaking news New

बेशकीमती हीरा ने गरीब मजदूर को रंक से बना दिया राजा

बेशकीमती हीरा ने गरीब मजदूर को रंक से बना दिया राजा

पन्ना। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले की रत्न गर्भा धरती ने आज फिर एक गरीब मजदूर को रंक से राजा बना दिया है।

शहर के बेनीसागर मोहल्ला निवासी रतनलाल प्रजापति हीरापुर टपरियन उथली खदान क्षेत्र से जेम क्वालिटी ( उज्जवल किस्म) वाला 8.22 कैरेट वजन का हीरा मिला है। इस हीरे की अनुमानित कीमत 40 लाख रुपए से अधिक बताई जा रही है।

हीरा अधिकारी रवि पटेल ने बताया कि 8.22 कैरेट वजन का यह हीरा उज्जवल किस्म का है जो गुणवत्ता और कीमत के लिहाज से अच्छा माना जाता है। उन्होंने बताया कि आगामी 21 सितम्बर से पन्ना में उथली खदानों से प्राप्त हुए हीरों की होने वाली खुली नीलामी में इस हीरे को भी रखा जायेगा।

हीरा कार्यालय पन्ना के पारखी अनुपम सिंह ने बताया कि पूर्व घोषणानुसार नीलामी में 139 नग हीरे रखे जा रहे थे, जिनका वजन 156.46 कैरेट था। लेकिन इस बीच 5 नग हीरे और जमा हुए हैं। इस तरह से अब नीलामी में रखे जाने वाले हीरों की संख्या बढ़कर 144 तथा वजन 181.50 कैरेट हो गया है। उन्होंने बताया कि इसके पूर्व 6.41 कैरेट वजन का हीरा गत 9 सितम्बर को किशोरगंज पन्ना निवासी प्रसून जैन को मिला था।

हीरा धारक रतनलाल प्रजापति ने यूनीवार्ता को बताया कि वह जब से होश संभाला हीरा की खदान लगाता आ रहा है। लेकिन किस्मत ने साथ नहीं दिया फिर भी उम्मीद में हीरों की तलाश जारी रखी। हीरा मिलने के बाद से पूरा परिवार खुश है।