breaking news New

देश की स्थिति भयावह, कोविड-19 संक्रमण के खतरे को नहीं भांप सका अमेरिका

देश की स्थिति भयावह, कोविड-19 संक्रमण के खतरे को नहीं भांप सका अमेरिका

वाशिंगटन।  अमेरिका के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड ने कहा है कि अमेरिका समय रहते यूरोप से पहुंचे कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के खतरे को नहीं भांप सका जिसके कारण देश में स्थिति आज इतनी भयावह हो गयी है।

 रेडफील्ड ने एबीसी न्यूज को मंगलवार को दिए साक्षात्कार में कहा,“ यूरोप से कोरोना वायरस का संक्रमण अमेरिका पहुंच रहा था और हमें इसका बिल्कुल भी एहसास नहीं था। जब तक हमें यूरोप से कोरोना वायरस के खतरे का एहसास हुआ और हमने यूरोप से यातायात को बंद किया तब तक बहुत देर हो चुकी थी। यूरोप से दो-तीन सप्ताह तक प्रतिदिन करीब 60 हजार लाेगों का आना जारी रहा।”

सीडीसी के निदेशक ने कहा कि अमेरिकी सरकार ने दो फरवरी को ही चीन आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया था जबकि यूरोप से आने वाली उड़ानों पर 13 मार्च तक भी प्रतिबंध नहीं लगाया गया था। तब तक न्यूयाॅर्क में कोरोना संक्रमण के 26 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी।

सीडीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक न्यूयाॅर्क में पाए गए सार्स-कोव-2 वायरस के नमूनों और यूरोप में मिले नमूनों में काफी है।