उत्तर प्रदेश : कोरोना वायरस संदिग्ध ने क्वारंटाइन सेंटर की सातवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की

उत्तर प्रदेश : कोरोना वायरस संदिग्ध ने क्वारंटाइन सेंटर की सातवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या की

नोएडा, 13 अप्रैल। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध ने आत्महत्या कर ली. खबरों के मुताबिक यह ग्रेटर नोएडा की घटना है. यहां रविवार रात को एक युवक ने क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील किए गए गलगोटिया इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग की सातवीं मंजिल से छलांग लगा दी. पुलिस के मुताबिक उसकी मौके पर ही मौत हो गई. कोरोना वायरस के लक्षणों के बाद इस युवक को 14 दिनों के लिए यहां रखा गया था.

कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच बीते कुछ समय के दौरान इस तरह की कई घटनाएं हुई हैं. बीते हफ्ते ही हरियाणा में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज अस्पताल से भागने के चक्कर में जान गंवा बैठा था. 55 साल का यह मरीज करनाल के एक अस्पताल में भर्ती था. उसने बेडशीट और प्लास्टिक के पैकेटों की एक कामचलाऊ रस्सी बनाकर अस्पताल की छठी मंजिल से उतरने की कोशिश की थी. इसी दौरान वह गिर पड़ा जिससे उसकी मौत हो गई.

इससे एक दिन पहले ही खबर आई थी कि कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज ने दिल्ली स्थित एम्स के ट्रॉमा सेंटर की इमारत से छलांग लगा दी. हालांकि उसकी जान बच गई. इसे कुछ दिन पहले ही कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर दिल्ली के ही सफदरजंग अस्पताल में भर्ती किए गए एक शख्स ने इसकी छत से कूदकर आत्महत्या कर ली थी. बीते कुछ समय के दौरान ऐसे भी कई मामले सामने आए हैं जब कोरोना वायरस के संदिग्ध क्वारंटाइन सेंटरों से भाग गए. बताया जा रहा है कि इसकी वजह इन सेंटरों में साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक से ठीक न होना थी.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का आंकड़ा नौ हजार को पार कर गया है. सरकार ने कुल 9152 मामलों की पुष्टि कर दी है. कोरोना वायरस से अब तक 308 मौतें भी हो चुकी हैं. बीते 2 घंटे में कुल 796 नए मामले सामने आए और 35 मौतें दर्ज की गईं. उधर, पूरी दुनिया की बात करें तो कोरोना वायरस से संक्रमितों का आंकड़ा 18.5 लाख को पार कर गया है. अमेरिका स्थित जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के मुताबिक मौतों की संख्या करीब सवा लाख तक पहुंच चुकी है.