breaking news New

समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान में पहुंचे कलेक्टर, बस्तर को बताया आदिवासियों की सांस्कृतिक राजधानी

समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान में पहुंचे कलेक्टर, बस्तर को बताया आदिवासियों की सांस्कृतिक राजधानी

जगदलपुर।   कलेक्टर रजत बंसल आज जगदलपुर शहर के ब्राह्मण पारा में स्थित समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान में पहुंचकर वहां के कार्यों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने इस समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान के कार्यो की सराहना भी की। श्री बंसल ने बस्तर को आदिवासियों की सांस्कृतिक राजधानी बताते हुए कहा कि यहां पर बेहतर कार्य करने की व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाने में यहां के लोगों का भरपूर सहयोग भी मिलता है।  बंसल ने कहा कि जगदलपुर शहर सम्पूर्णं बस्तर संभाग का केन्द्र बिन्दु है, उसके अनुरूप इस शहर का सुव्यवस्थित विकास करने का प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि बस्तर विकास के साथ-साथ यहां की अस्मिता एवं आदिवासी संस्कृति को भी बनाए रखना अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने जिले में पर्यटन विकास के कार्यों के अन्तर्गत आदिवासियों की संस्कृति को अक्षुण्य बनाए रखने तथा उसके संरक्षण एवं संवर्धन हेतु किए जा रहे प्रयासों की भी जानकारी दी। कलेक्टर ने समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान के कार्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि पत्रकारिता एवं शोध पर निरंतर कार्य होते रहना चाहिए। श्री बंसल ने जिला प्रशासन के ओर से इस संस्थान को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन भी दिया।
कलेक्टर श्री बंसल के समाचार पत्र संग्रहालय एवं शोध संस्थान में पहुंचने पर संस्थान के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र तिवारी एवं उपस्थित लोगों ने आत्मीय अभिनंदन करते हुए श्री बंसल के नेतृत्व में जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। उन्होंने बताया कि पंडित माधवराव सप्रे समाचार पत्र संग्रहालय के तर्ज पर इसे विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है। इस अवसर पर श्री सत्यनारायण शुक्ला, श्री दिलीप सिंह ठाकुर, श्री शिवप्रसाद शुक्ला सहित वरिष्ठ पत्रकारों एवं साहित्यकारों के अलावा नगर के गणमान्यजन उपस्थित थे।