breaking news New

बलात्कार का आरोपी महाराष्ट्र से गिरफ्तार, पढ़िए पूरी खबर

बलात्कार का आरोपी  महाराष्ट्र से गिरफ्तार, पढ़िए पूरी खबर

भानुप्रतापपुर।  नाबालिग को बहला फुसलाकर अपहरण कर बलात्कार करने वाले आरोपी को भानुप्रतापपुर पुलिस ने दबिश देते हुए महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थिया थाना आकर रिपोर्ट दर्ज करायी कि इनकी नाबालिग पुत्री बिना बताये घर से कहीं चली गई है तथा नाबालिग पुत्री को भगा ले जाने का संदेह व्यक्त करने की रिपोर्ट पर  20 सितम्बर को गुम इंसान क्रमांक 32/21 अपराध क्रमांक 199/2021 धारा 363 भादवि.कायम कर विवेचना में लिया गया एवं वरिष्ठ अधिकारीयों को अवगत कराया गया । नाबालिग बालिका संबंधित अपराध घटित होने से मामले की संवेदनशीलता को ध्यान में रखकर पुलिस अधीक्षक महोदय कांकेर शलभ सिन्हा के द्वारा तत्परता पूर्वक एवं तत्काल कार्यवाही करने निर्देश प्राप्त होने पर तथा अति पुलिस अधीक्षक कांकेर गोरखनाथ बघेल , अनुविभागीय अधिकारी पुलिस भानुप्रतापपुर प्रशांत कुमार सिह पैकरा के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी निरीक्षक नरेशचंद्र दीवान के नेतृत्व में टीम गठित किया गया और त्वरित कार्यवाही करते हुए अपहृता एवं आरोपी के पता तलाश हेतु टीम रवाना किया गया था।  जो पुलिस अधीक्षक कार्यालय कांकेर सायबर सेल के मदद से अपहृता का ग्राम बल्लरपुर थाना बल्लारपुर ( महाराष्ट्र ) में होना पता चलने पर संबंधित जगह जाकर पता तलाश किया गया जो बल्लरपुर जिला चंद्रपुर ( महाराष्ट्र ) में जाकर पता करने पर आरोपी कार्तिक सौदागर पिता सुरेश पाल सौदागर उम्र 22 वर्ष साकिन बल्लारपुर थाना बल्लारपुर जिला चंद्रपुर ( महाराष्ट्र ) के कब्जे से अपहृता बालिका को  21 सितम्बर रात्रि 11:30 बजे बरामद किया गया। अपहृता व आरोपी का मेडिकल मुलाहिना पश्चात् अपराध घटित होना पाये जाने व आरोपी द्वारा अपराध करना कबूल करने पर आरोपी को धारा 363,376 भादवि . , 4 पाक्सो एक्ट के तहत  22 सितम्बर के 16:35 बजे गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय भानुप्रतापपुर में पेश किया गया जहां आरोपी को न्यायालय के आदेश पर जेल दाखिल किया गया सम्पूर्ण कार्यवाही में थाना भानुप्रतापपुर के उप निरीक्षक अखिलेश बींवर , महिला प्रधान आरक्षक 283 उमित्रा टेकाम , आरक्षक 762 राजेश नेताम , 891 राजेन्द्र रावटे , महिला आरक्षक 59 सगनी पोटाई , 587 रेवती पोया , का उल्लेखनीय योगदान रहा ।