breaking news New

एक करोड़ पांच लाख टन धान की खरीदी करेगी सरकार, केन्द्र सरकार समय पर बारदाना मुहैय्या कराए - सेठिया

   एक करोड़ पांच लाख टन धान की खरीदी करेगी सरकार, केन्द्र सरकार समय पर बारदाना मुहैय्या कराए - सेठिया

रायपुर। बस्तर के किसान अच्छी तरह जानते हैं कि धान इस साल देरी से कटेगा। जानकीराम सेठिया का कहना है कि वे भी एक किसान है और इस बात को समझते हैं कि आने वाले दीपावली से पहले किसानों का धान खरीदकर दीपावली मनाने का हमारे विपक्ष के मित्र जो बयान जारी कर रहे हैं वह हमारे लोकप्रिय मुख्यमंत्री एक नवंबर से बोनस की राशि की तीसरी किश्त सभी किसानों के खाते में दिया जा रहा है। जो दीपावली एवं धान कटाई के लिए पर्याप्त है। 

छत्तीसगढ़ कृषक कल्याण परिषद के सदस्य सेठिया का कहना है कि अगर मोदी सरकार ने 61 लाख मैट्रिक टन चांवल खरीदने का निर्णय लिया है तो हमारे मुख्यमंत्री द्वारा एक करोड़ पांच लाख टन धान खरीदी का भी निर्णय लिया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश में 11 में से 9 सांसद भारतीय जनता पार्टी के हैं।

बावजूद इसके वे अपनी केन्द्र सरकार पर एक करोड़ पांच लाख टन धान खरीदी के लिए केन्द्रीय कृषि मंत्री को मुख्यमंत्री द्वारा पत्र लिखकर जूट के बारदाने उपलब्ध कराने के लिए व्यवस्था नहीं करवा पा पहे हैं जिसके कारण छत्तीसगढ़ के सभी खरीद केन्द्रों में समय पर धान खरीदी के समय बारदाना उपलब्ध होने से खरीदी बाधित होने से बचेगी।

सेठिया ने भूमि के रकबे के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ के समस्त पटवारी गिरदावरी कर जिले के अधिकारी को देने पर आगे फसल चक्र के लिए कार्य हेतु अपनी जिम्मेदारी महसूस करते हुए समय पर रिपोर्ट प्रस्तुत करें ताकि आने वाले वर्ष किसानों का जिस फसल में ज्यादा रूचि है !

उस हिसाब से किसानों को उनकी रूचि के मुताबिक अधिक से अधिक फायदा दिलाया जा सके। बोवाई का रकबा कम न करके समस्त भूमि में विभिन्न फसलों को उत्पादन होने से जहां राज्य का कृषि के क्षेत्र में विकास होगा वहीं व्यावसायिक फसलों को लगाने से किसान भी आर्थिक तौर पर सुदृढ़ होंने।

सेठिया के अनुसार उन्हें लगता है कि विपक्ष के लोग केवल कांग्रेस सरकार को बदनाम करने के लिए बिना सोचे समझे केवल बयान जारी करते रहते हैं जबकि उन्हें सतह पर जाकर संबंधित विषय की सच्चाई का पता लगाना चाहिए।