breaking news New

किसान आंदोलन में शहीद क्रांतिकारी किसानों को दी गई श्रद्धांजलि

 किसान आंदोलन में शहीद क्रांतिकारी किसानों को दी गई श्रद्धांजलि

 धमतरी, 20 दिसंबर। छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ के तत्वाधान में केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों नई कृषि बिल की वापसी के लिए दिल्ली के बॉर्डर पर पिछले 25 दिनों से खेती किसानी को बचाने के लिए जंग लड़ रहे क्रांतिकारी किसान संत बाबा राम सिंह जी सहित  23 से भी अधिक किसान शहीद हुए हैं जिनकी शहादत को आज पूरे देश भर में श्रद्धांजलि देते हुए केंद्र सरकार से मांग किया कि सरकार उन्हें शहीदों का दर्जा देते हुए शहीदों को मिलने वाली सम्मान प्रदान करें। 


इसी कड़ी में धमतरी इकाई के द्वारा कचहरी चौक स्थित शहीद स्मारक के सामने मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गई। इस अवसर पर संघ के अधिवक्ता शत्रुहन सिंह अशोक मेश्राम महेश रावटे ने संयुक्त रूप से शहीदों को याद करते हुए सभी उपस्थित किसान साथियों से इस किसान आंदोलन को सफल बनाने में तन मन धन से सहयोग करने का संकल्प लेते हुए आंदोलन को और उग्र करने का संकल्प दोहराया। 

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार किसानों के साथ अंग्रेजों की तरह क्रूर व्यवहार कर रहे हैं उन्हें किसानों के सम्मान में तीनों काला बिल को वापस लेकर न्यूनतम समर्थन मूल्य गारंटी का कानूनी अधिकार देकर इस जंग में शहीद हुए किसानों को सच्ची श्रद्धांजलि देनी चाहिए। श्रद्धांजलि सभा में मुख्य रूप से संजय चंद्राकर टिकेश्वर साहू निशांत भट्ट सतवंत महिलाग अशोक मिश्रा लोकेश्वर साहू पिंकू भट्ट पूरन यादव मनदीप सिंह दशमेश सिंह अंग्रेज सिंह संतोष सिंह सुखदेव सिंह सूर्यवंशी विजय सिंह कुलदीप समन से सिंह कुलप्रीत सिंह आनंद सिंह दिलप्रीत सिंह यादविंदर सिंह जगजीवन सिंह नदीम रिजवी सतनाम सिंह आकाश देवांगन शिव यादव नकुल यादव दिनेश भट्ट दिलेश्वर साहू रसूल खान सहित किसानों के साथ बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी उपस्थित रहे।