breaking news New

आंदोलनरत किसान की हृदय गति रुकने से मौत, जींद में हुआ अंतिम संस्कार

आंदोलनरत किसान की हृदय गति रुकने से मौत, जींद में हुआ अंतिम संस्कार

जींद।  तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ नौ महीने से दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल एक किसान, जिसका कल हृदय गति रुकने से निधन हो गया था, आज हरियाणा के जुलाना में उसका अंतिम संस्कार किया गया।

अंतिम संस्कार में जुलाना के आसपास के इलाकों से किसान शामिल हुए।

जुलाना के वार्ड तीन निवासी देवेंद्र (39) किसान आंदोलन के दौरान लगातार नौ माह से दिल्ली के टीकरी बार्डर पर ही डटे हुए थे। कल देवेंद्र की हृदय गति रुकने से मौत हो गई। देवेंद्र का पोस्टमार्टम बहादूरगढ़ के सामान्य अस्पताल में करवाया गया और आज पार्थिव शरीर यहां लाया गया। भाई ने देवेंद्र को मुखाग्रि दी। भारतीय किसान यूनियन के खंड प्रधान पवन लाठर,आढ़ती एसोसिएशन के जिला प्रधान राजपाल लाठर समेत जुलाना के सैकड़ों लोग अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

भाकियू के जिला उपाध्यक्ष नरेंद्र ढांडा ने आरोप लगाया कि नौ महीने में 650 किसानों की मौत हो चुकी है लेकिन सरकार किसानों की कोई सुध नहीं ले रही है।