breaking news New

सुरजपुर- रामानुजनगर जनपद के आदर्श गोठान की स्थिति दयनीय, नही है मवेशी और ना ही पैरा का प्रबंध

सुरजपुर- रामानुजनगर जनपद के आदर्श गोठान की स्थिति दयनीय, नही है मवेशी और ना ही पैरा का प्रबंध

सुरजपुर। राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजना नरुवा, घुरूवा, गरुआ के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक विकाश को ध्यान में रख कर योजना चलाकर गौ वंश को रखने व उसका देख भाल करने को लेकर तमाम निर्देश दे चुके है। 

जिला प्रशासन द्वारा गोठानो में बेहतर सुविधाएँ होने की बात तो कहती है। किंतु जमीनी रूप से कुछ और नजर आ रहा है। "आज की जनधारा " की टीम अपने ग्राउंड रिपोर्टिंग के दौरान जिले के रामानुजनगर जनपद क्षेत्र आदर्श गोठान कृष्णपुर का दौरा किया जहां के गोठान में मवेशी के लिए पानी की सुविधा बस उपलब्ध थी। पानी के अलावा मवेशियों के लिए पैरा, चारा की वे व्यवस्था नही की गई है। चारा है तो जो जगाया हुआ है। यहां मवेशियों के देख रेख करने कोई नही आता है। अपने अपने पड़ताल में पाया कि आदर्श गोठान में केवल 8 - 9 गौ वंश के पशु थे तो वहीं 2 भैंसे थे जो पानी मे तैर रहे थे। पशुओं के चारा के लिए कांक्रीट से बने कोठरी है जो दरार पड़ चुका है। साथ ही ध्यान नही देने के कारण फैंसिंग तार के ख़म्भे भी गिरने की स्थिति में है। यहां हमने पड़ताल में भी पाया कि कोई कोई भी सुरक्षा गार्ड की स्थायी नियुक्ति तो की गई है जो मौके पर रहते ही नही है। और उनका भुगतान किया जा रहा है। यहां पर के मवेशी मैदान में उगे नैचुरल चारा को खा रहे है। जिनका स्वास्थ्य भी असर हो रहा है। मवेशी दुबले पतले हो चुके है। मवेशी के देख भाल नही किया जाता है। ये दिखता है कि आदर्श गोठान की स्थिति ये है तो आप कल्पना कर सकते है कि बाकी गोठानो की स्तिथि कैसी होगी।