breaking news New

कैबिनेट मंत्री का दर्जा हासिल करने में सफल हुए किशन रेड्डी

कैबिनेट मंत्री का दर्जा हासिल करने में सफल हुए किशन रेड्डी

हैदराबाद।  केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी अपनी कड़ी मेहनत के चलते ही केन्द्रीय मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री का दर्जा हासिल करने में सफल हुए हैं। बुधवार शाम को हुए मंत्रिमंडल विस्तार में उन्होंने कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।

श्री रेड्डी ने इससे पहले 30 मई 2019 को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली थी। वह भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर मई 2019 में सिकंदराबाद लोकसभा क्षेत्र से चुने गये थे।

तेलंगाना के रंगारेड्डी जिले के तिम्मापुर गांव में जी स्वामी रेड्डी और अंडालम्मा के घर 15 जून 1964 को जन्मे श्री रेड्डी ने सीआईटीडी से टूल डिजाइन में डिप्लोमा किया।

श्री रेड्डी (57) ने वर्ष 2009 में आंध्र प्रदेश विधानसभा में भाजपा के विधायक दल के नेता के रूप में काम किया था और तत्कालीन आंध्र प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष के रूप में चुने जाने के बाद विधायक दल के नेता पद को छोड़ दिया था।

श्री रेड्डी ने अपने करियर की शुरुआत नब्बे के दशक के अंत में एक युवा नेता के रूप में की थी। उन्हें वर्ष 2002 से 2005 तक भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में चुना गया था। श्री रेड्डी वर्ष 2004 में हिमायतनगर निर्वाचन क्षेत्र से विधायक के रूप में चुने गए और वर्ष 2009 और 2014 में अंबरपेट विधानसभा क्षेत्र के लिए फिर से चुने गए।

श्री रेड्डी दिसंबर 2018 में तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) उम्मीदवार कालेरू वेंकटेशम से विधानसभा चुनाव हार गए।

थे। श्री रेड्डी को सर्वसम्मति से तेलंगाना भाजपा अध्यक्ष के रूप में चुना गया।

श्री रेड्डी ने वर्ष 1977 में जनता पार्टी के युवा नेता के रूप में अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की। वर्ष 1980 में भाजपा के गठन के बाद, वह पूर्णकालिक रूप से पार्टी में शामिल हो गए। वह भारतीय जनता युवा मोर्चा आंध्र प्रदेश के राज्य कोषाध्यक्ष बने और तब से उन्होंने पार्टी में विभिन्न पदों पर कार्य किया है।

उन्होंने जी काव्या से विवाह किया है और उनके दो बच्चे हैं।