पहरे में रहा कब्रिस्तान, शब-ए-बराअत पर घरों में हुई इबादत

पहरे में रहा कब्रिस्तान, शब-ए-बराअत पर घरों में हुई इबादत


भिलाई। अपने दिवंगत परिजनों को याद करने शब-ए-बराअत पर गुरुवार को मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घरों में रह कर इबादत की। कब्रिस्तान हैदरगंज कैम्प-1 में पुलिस पूरे समय मौजूद रहा और कब्रिस्तान इंतेजामिया कमेटी के लोगों ने तमाम कब्रों पर फूल पेश किए। 

शब-ए-बराअत पर कोरोना संकट के साए तले तमाम एहतियात बरते गए। इसके लिए कमेटी की ओर से पहले ही कब्रिस्तान के बाहर सूचना लगा दी गई थी। वहीं पुलिस जवान भी मौके पर मौजूद रहे, जिससे कि जानकारी के अभाव में लोग बड़ी तादाद में कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने न आ जाए। हालांकि ऐसी स्थिति नहीं आई और लोग अपने घरों में ही रहे। शहर की तमाम मस्जिद कमेटियों की रजामंदी से पहले ही इस संबंध में  फैसला लिया गया था कि कब्रिस्तान में किसी तरह का कोई कार्यक्रम नहीं होगा। इसे देखते हुए कमेटी के ओहदेदारों ने बड़ी तादाद में फूल मंगवा रखे थे। गुरुवार को दिन में पूरा कब्रिस्तान सैनिटाइज किया गया। इसके बाद कमेटी की ओर से हर कब्र पर जाकर फूल पेश किए गए। घरों में रात भर इबादत का सिलसिला चलता रहा।

chandra shekhar