breaking news New

विवादों में दल्ली राजहरा व्यापारी संघ चुनाव,पढ़िए पूरी खबर

विवादों में दल्ली राजहरा व्यापारी संघ चुनाव,पढ़िए पूरी खबर

दल्ली राजहरा- दल्ली राजहरा व्यापारी संघ चुनाव में  विवादों का हमेशा से एक नाता रहा है संघ चुनाव को ले कर पूर्व में भी चुनाव अधिकारियों पर उंगली उठती ही रही है! अभी होने वाले व्यापारी संघ चुनाव में भी सदस्यता को लेकर कुछ व्यापारियों द्वारा त्योहार के कारण सदस्यता की  तिथि को आगे बढ़ाने का निवेदन चुनाव अधिकारियों को किया गया था परंतु चुनाव अधिकारी के अड़ियल रवैये के कारण इस बार के चुनाव में कम सदस्यता को लेकर एक नया विवाद जन्म ले रहा है

वर्तमान में दल्ली राजहरा ओर चिखलाकसा में लगभग छोटे बड़े 4000 लोग व्यवसाय से जुड़े हुए है और अब तक लगभग 400 लोगो ने ही अब तक व्यापारी संघ की सदयता ली है |

जिन व्यापारियों ने त्यौहार के कारण अपने व्यापार की वयस्तता के कारण संघ की सदस्यता से वंचित हो गए है उनका कहना है कि चुनाव अधिकारी जानबूझकर संघ की सदस्यता से वंचित व्यापारियों के निवेदन को अस्वीकार कर रहे है |

 चुनाव समिति कर रही है मनमानी!

    व्यापारी संघ चुनाव में चलाया जा रहा है जातिगत समीकरण कुछ व्यापारियों ने नाम न छापने की शर्त पर यह बताया की चुनाव समिति द्वारा अपने खास लोगो को ही दी जा रही है संघ की सदस्यता!  आखिर किसके इशारे पर चल रहा है चुनाव समिति ? 

    जानकारी अनुसार पूर्व में भी आननफानन में 40 से 50 लोगो की उपस्थिति में बिना किसी चुनाव के व्यापारी संघ अध्यक्ष को अपने मन से बदल दिया गया | 

    विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार चुनाव अधिकारी निष्पक्षता से अपना काम नही कर पा रहे है जिससे आने वाले चुनाव में भी चुनाव अधिकारी से निष्पक्षता की उम्मीद करना बेमानी है !

   क्या जानपुछ कर चुनाव अधिकार द्वारा सदस्यता फॉम में 31 तारीख का दिनांक डाल कर दिग भर्मित किया गया व्यपारियों को !    संघ की सदस्यता में लग रहे जातिगत समीकरणों के कारण कम सदस्यता होने पर अपना मत सार्वजनिक किया जाना चाहिए ताकि संघ के चुनाव की निष्पक्षता बनी रहे |