breaking news New

यूरोप और अमेरिका में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के दबाव में सेंसेक्स 136 अंक फिसला; निफ्टी 28 अंक लुढ़का

यूरोप और अमेरिका में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के दबाव में सेंसेक्स 136 अंक फिसला; निफ्टी 28 अंक लुढ़का

मुम्बई।  यूरोप और अमेरिका में कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के दबाव में वैश्विक शेयर बाजारों के लुढ़कने के बीच दूरसंचार क्षेत्र में हुई भारी बिकवाली के दबाव में शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार लगातार तीसरे दिन गिरावट में बंद हुए।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज 135.78 अंक यानी 0.34 प्रतिशत फिसलकर 39,614.07 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.24 प्रतिशत यानी 28.40 की गिरावट में 11,642.40 अंक पर बंद हुआ।

बाजार विश्लेषकों के अनुसार, निवेशकों में यूरोप में बढ़त कोरोना संक्रमण को लेकर अनिश्चितता बढ़ गयी है। कोरोना संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए कुछ यूरोपीय देशों में दोबारा लगाये गये लॉकडाउन से निवेशक हतोत्साहित हो गये हैं। इसके अलावा अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव को लेकर भी निवेशक आशंकित हैं। घरेलू बाजार में भारती एयरटेल के शेयरों में भारी बिकवाली रही , जिसका दबाव पूरे दूरसंचार क्षेत्र पर रहा। भारती एयरटेल सेंसेक्स की आज सबसे अधिक नुकसान उठाने वाली कंपनी रही और उसके शेयरों के दाम 3.82 प्रतिशत लुढ़क गये। इसके अलावा मारूति के शेयरों में भी 2.45 प्रतिशत की गिरावट रही।