breaking news New

सीआईएसएफ जवानों ने आत्मरक्षा में चलायी गोलियां: एसपी

सीआईएसएफ जवानों ने आत्मरक्षा में चलायी गोलियां: एसपी

कूचबिहार।  पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिले में शनिवार को हुए मतदान के दौरान करीब 300 से 350 लोगों की भीड़, जिनमें अधिकांश महिलायें शामिल थी !  के हमले के बाद केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ ) के जवानों ने गोलियां चलायीं जिसके कारण 22 से 24 वर्ष उम्र के चार युवकों की मौत हो गयी।
पुलिस अधीक्षक देवाशीष धर ने बताया कि घटना के समय कूचबिहार जिले के शीतलकुची विधानसभा क्षेत्र के माताबंगा स्थित मतदान केंद्र पर मतदान जारी था। उन्होंने कहा कि सुबह पौने दस बजे यह घटना मतदान केंद्र संख्या 126 पर उस समय घटित हुयी, जब एक मतदाता अचानक बीमार हो गया तथा दो तीन लोग उसकी सहायता में जुटे हुए थे।
उन्होंने बताया कि वहां तैनात सीआईएसएफ के कुछ जवान भी उस मतदाता की सहायता करने वहां पहुंचे। इस बीच अफवाह फैली की, उस मतदाता कि केंद्रीय बल के जवानों ने पिटाई की है। इसके बाद महिलाओं समेत 300 से 350 लोगों ने धारदार हथियारों के साथ सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया, जिसमें होमगार्ड का एक जवान बुरी तरह घायल हो गया।
इसके बाद ईवीएम और हथियारों को छीनने के प्रयासों के बीच सीआईएसएफ के जवानों ने अतिरिक्त बलों को मौके पर भेजने की मांग की।
श्री धर ने कहा कि कमांडर इंस्पेक्टर ई सुनील कुमार के नेतृत्व में सीआईएसएफ की त्वरित कार्रवाई टीम जब मौके पर पहुंची तो उग्र भीड़ ने उन पर भी हमला कर दिया। इसके बाद सीआईएसएफ के जवानों को गोलियां चलानी पड़ी, जिसमें चार लोग मारे गये। मृतकों की पहचान हमीदुल मियां, मनीरूल मियां, नूर आलम और समीउल मियां के रूप में की गयी है। इसके अलावा तीन अन्य घायल हैं जिनमें से एक को गोली लगी है।
उन्होंने कहा कि घायलों को कूचबिहार अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमले में हाेमगार्ड जवान के अलावा केंद्रीय बल के दो जवान भी घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि केंद्रीय बल के जवानों ने कुल 15 चक्र गोलियां चलायीं।