breaking news New

सीपी रहते परमबीर ने 100 करोड़ की वसूली वाली बात क्यों नहीं बताई

सीपी रहते परमबीर ने 100 करोड़ की वसूली वाली बात क्यों नहीं बताई

मुंबई। एंटीलिया मामले में  भाजपा नेता रविशंकर की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद एनसीपी सुप्रीमो  नेता शरद पवार ने  महाराष्ट्र सरकार पर उठ रहे सवालों पर जवाब दिया.  उन्होंने मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोप पर तंज कसा. उन्होंने कहा कि सीपी रहने के दौरान परमबीर ने 100 करोड़ की वसूली वाली बात क्यों नहीं बताई.
परमबीर के आरोपों को लेकर उन्होंने कहा कि इससे सरकार की छवि पर कोई असर नहीं होगा. उन्होंने कहा कि सचिन वाजे की बहाली मुख्यमंत्री ने नहीं परमबीर सिंह ने की थी. परमबीर सिंह ने सीपी रहते हुए गृह मंत्री पर कोई आरोप नहीं लगाए. अब जब उनका तबादला हो गया तो उन्होंने आरोप लगाए हैं.

हालांकि यह सरकार को अस्थिर करने की कोशिश हो सकती है. पवार ने इस मामले की जांच के लिए जूलियो रिबेरो का नाम सुझाया. उन्होंने कहा कि इस प्रकरण की जांच रिबेरो से कराई जानी चाहिए. जूलियो रिबेरो महाराष्ट्र के चर्चित और बेदाग छवि वाले पुलिस अफसर रहे हैं.

शरद पवार ने कहा कि परमबीर सिंह ने आरोप तो लगाए हैं लेकिन साक्ष्य नहीं दिए हैं. पत्र पर परमबीर के हस्ताक्षर भी नहीं हैं और ना ही उन्होंने पत्र में यह बताया है कि पैसा किसके पास गया.